सुरेश रैना के अलावा शाकिब अल हसन, इयोन मॉर्गन, स्टीव स्मिथ और एरोन फिंच जैसे खिलाड़ियों को मेगा ऑक्शन में कोई खरीदार नहीं मिला है। फिंच की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 2021 टी-20 विश्व कप जीता था, लेकिन उन्हें भी किसी टीम ने नहीं खरीदा।

आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन में कुल 204 खिलाड़ी नीलाम हुए। इनमें 67 विदेशी और 137 भारतीय खिलाड़ी शामिल थे। 23 साल के किशन इस नीलामी में सबसे महंगे खिलाड़ी बने। मुंबई ने 15.25 करोड़ में खरीदा। वहीं अंडर-19 विश्व कप के स्टार डेवाल्ड ब्रेविस को भी तीन करोड़ की रकम मिली, लेकिन कई दिग्गज खिलाड़ियों को इस नीलामी में खरीदार नहीं मिला। इसमें मिस्टर आईपीएल कहे जाने वाले सुरेश रैना और 2021 टी-20 विश्व कप जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान एरोन फिंच भी शामिल थे।

इस नीलामी में कुल 600 खिलाड़ी शामिल हुए थे, जबकि सभी टीमें कुल मिलाकर 217 खिलाड़ियों को ही खरीद सकती थीं। ऐसे में 383 खिलाड़ियों का न बिकना तय था। नीलामी में सिर्फ 204 खिलाड़ियों पर ही बोली लगी और 396 खिलाड़ी नहीं बिके। इसमें ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरोन फिंच का न बिकना चौकाने वाला था। फिंच ने तीन महीने पहले अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलियाई टीम को टी-20 विश्व कप जिताया था।

मेगा ऑक्शन में नहीं बिके ये दिग्गज खिलाड़ी

अरोन फिंच- 2021 विश्व कप जीतने वाली टीम के कप्तान रहे हैं। टी-20 में 153 रन की पारी खेल चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया का यह विस्फोटक बल्लेबाज आईपीएल में भी कई बेहतरीन पारियां खेल चुका है।
रहमनुल्लाह गुरबाज- अफगानिस्तान का यह विस्फोटक बल्लेबाज लंबे छक्के लगाने के लिए मशहूर है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अफगानिस्तान के लिए कई मैच जिताऊ पारियां खेली हैं।
रैश रैना- मिस्टर आईपीएल कहे जाते थे। सबसे पहले आईपीएल में पांच हजार रन पूरे किए। कई सीजन तक लगातार 400 से ज्यादा रन बनाए। टी-20 में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज।
स्टीव स्मिथ- मौजूदा समय में दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक। आईपीएल में राजस्थान टीम के कप्तान भी रह चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया की टी-20 टीम में शामिल हैं।
सौरभ तिवारी- बड़े हिट के लिए जाने जाते हैं। पिछले सीजन में मुंबई के लिए लगातार उपयोगी पारियां खेली थीं।
शाकिब अल हसन- टी-20 के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक। दुनियाभर में टी-20 लीग खेलते हैं और छाए रहते हैं।
पीयूष चावला- आईपीएल के सबसे सफल खिलाड़ियों में से एक। भारत की विश्व कप विजेता टीम के सदस्य। कई आईपीएल ट्रॉफी जीतने वाले खिलाड़ी।
ईशांत शर्मा- भारत के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई रिकार्ड अपने नाम किए। कई ऐतिहासिक मैच जिताए। 2013 चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल के हीरो।
धवल कुलकर्णी- अनुभवी भारतीय तेज गेंदबाज। आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया। भारत के लिए भी कई मैच खेले और अहम विकेट भी निकाले।
अमित मिश्रा- आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में शामिल। अपनी लेग स्पिन गेंदबाजी से कमाल करते हैं।
उमेश यादव- भारत की मौजूदा टेस्ट टीम का हिस्सा हैं। टीम इंडिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक। भारतीय पिचों में भी विकेट निकालने में माहिर।
बेन मैकडरमोट- बीबीएल-11 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज। विकेटकीपर होने के साथ विस्फोटक बल्लेबाजी भी करते हैं। पिछले कई महीनों से शानदार फॉर्म में हैं।

इन सभी खिलाड़ियों को मिला दिया जाए तो अंतरराष्ट्रीय स्तर की एक मजबूत टीम बन सकती है, लेकिन मेगा ऑक्शन में इन खिलाड़ियों पर किसी भी टीम ने बोली नहीं लगाई। खास बात यह है कि इस सूची में अधिकतर उम्रदराज खिलाड़ी शामिल हैं और इस मेगा ऑक्शन में सभी टीमें लंबे समय के लिए अपनी स्थायी टीम बनाना चाहती थीं। इस वजह से भी अमित मिश्रा और सुरेश रैना जैसे दिग्गजों को किसी टीम ने नहीं खरीदा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *