बिलासपुर।हाईकोर्ट ने डॉ.पुनीत गुप्ता के खिलाफ गोलबाजार थाने में दर्ज FIR के बाद अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई पूरी कर ली है।ज्ञात हो कि-पुर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के दामाद डॉ.पुनीत गुप्ता के खिलाफ DKS अस्पताल में उपकरण खरीदी को लेकर पचास करोड़ रूपए की गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए गोलबाजार थाने में एफआईआर दर्ज करायी गई है।
इस मामले में पुनीत गुप्ता ने हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगायी थी।मामले में सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने दोनों पक्षों की सुनवाई करते हुए फैसले को सुरक्षित रख लिया है।

Read More:सरगुजा यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ.रोहिणी प्रसाद को बनाया गया ICSSR की सलाहकार कमेटी का सदस्य

पुनीत गुप्ता के अधिवक्ता की तरफ से अंतागढ़ टेपकांड मामले की दलील देते हुए कहा गया है कि उस मामले में हाईकोर्ट ने अग्रिम जमानत दे दी है और ये मामला भी अंतागढ़ मामले जैसे राजनीति से प्रेरित है।बचाव पक्ष ने कहा है कि पुनीत गुप्ता के उपर आपराधिक षड्यंत्र की धाराएं लगायी गयी हैं,जबकि एफआईआर सिर्फ पुनीत गुप्ता के उपर ही दर्ज है है।कोर्ट में बचाव पक्ष ने कहा है कि कोई एक आदमी आपराधिक षड्यंत्र नहीं कर सकता है। हाईकोर्ट में पुनीत गुप्ता के पक्ष में दलील दी गयी है कि डीकेएस अस्पताल की खरीदी नियमों के तहत टेंडर प्रक्रिया अपनाकर की गयी है जिसमें अस्पताल की कमेटी शामिल होती है।लेकिन सिर्फ पुनीत गुप्ता पर एफआईआर राजनीतिक साजिश की तरफ इशारा करती है।ऐसा माना जा रहा है कि पुनीत गुप्ता की अग्रिम जमानत याचिका पर गुरूवार को फैसला आ सकता है।

Summary
0 %
User Rating 3.95 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

राजधानी में मां- बेटी की संदिग्ध मौत,जांच में जुटी पुलिस

रायपुर।राजधानी के सरस्वती नगर थाना क्षेत्र स्थित कुकुरबेड़ा इलाके में रविवार की दोपहर उस वक…