महामारी के कारण बनी यह दूरी हमारे रिश्तों को भी प्रभावित कर रही है।कोरोनोवायरस के कारण उन कपल्स के बीच दूरी और बढ़ गई है, जो पहले से ही लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में थे।वे पहले से ही व्यक्तिगत रूप से एक दूसरे से नहीं मिल पा रहे थे और वर्क फ्रॉम होम और घर के कामों ने उनके संचार को भी प्रभावित कर दिया है।दरअसल कपल्स कब तक डिजिटल इंटरैक्शन से काम चलाएंगे और अब छोटे-छोटे घरों में फैलिनी के साथ रहने ने और फिर नुकसान किया है।कामकाज का इस नए तरीकों के कारण कपल्स डिस्कनेक्ट महसूस कर रहे हैं।वे अपने आप को असंतुष्ट महसूस कर रहे हैं क्योंकि घर और ऑफिस के कामों के बीच वो अपने पार्टनर को खुल कर समय नहीं दे पा रहे हैं।वहीं घर में सभी लोगों का रहना उनकी पहली जैसे प्राइवेसी मैंटेंन करने नहीं दे रहा है। तो आइए जानते हैं कि ऑफिस और घर के काम के बीच कैसे करें अपनी प्राइवेसी का जुगाड़?

अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक काम के बीच समय निकालें

हममें से ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं। यह व्यक्तिगत और प्रोफेशनल लाइफ के बीच की सीमाओं को धुंधला कर रहा है। हम दिन के अंत में भी बहुत से काम कर रहे होते हैं, यह एहसास किए बिना कि यह हमारा व्यक्तिगत समय भी बीत रहा है। इसलिए, सुनिश्चित करें कि आपने दोनों के बीच एक सीमा बनाएं रखें। अपना काम अच्छी तरह से करें लेकिन अपने साथी के लिए समय निकालें।

बातचीत बढ़ाएं और प्रौद्योगिकी का उपयोग करके जुड़े रहें

अब जब आप उनसे नहीं मिलेंगे, तो सुनिश्चित करें कि आप प्रौद्योगिकी के उपयोग करके लगातार उनके संपर्क में रहें। आप उन्हें पूरे दिन एक बार वीडियो कॉल जरूर करें। इससे आपको दोनों जुड़ाव महसूस करेंगे और लगेगा कि आप दोनों ने एक साथ दिन को खत्म कर लिया है। वीडियो कॉल करने के लिए रात का समय चुनें। इस समय आप और वो दोनों काम निपटा चुके होंगे, घर के सभी लोग सोने चले गए होंगे, तो आप इसका आसानी से फायदा उठा सकते हैं।

अपने वीकेंड्स का बुद्धिमानी से उपयोग करें

वीकेंड्स की छुट्टी में आप अपने घर के कामों से थीड़ी छुट्टी लें और साथ एक फिल्म या रात का खाना खाने जाएं। सप्ताहांत में कुछ चीजों को शेड्यूल करें जैसे कि एक साथ मूवी देखना या डिजिटल गेम खेलना आदि। आप अभी तक मिल नहीं सकते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप इस महामारी से पहले हमारे द्वारा की गई सभी चीजों का आनंद नहीं ले सकते। आप वीकेंड्स पर उनसे ज्यादा से ज्यादा फोन और बाते करें।

अपने साथी और उनकी जरूरतों के प्रति संवेदनशील रहें

यह समय कई कारणों से भावनात्मक रूप से कठिन है। भविष्य की अनिश्चितता से लेकर नौकरी की सुरक्षा पर चिंता तक, सब कुछ हम पर भारी पड़ रहा है। यह हमारे मानसिक स्वास्थ्य को काफी गंभीर रूप से प्रभावित कर रहा है। आपका साथी अलग नहीं है। आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप उनके लिए समानुपाती हों, आप उन्हें सुनें और उनकी भावनात्मक जरूरतों का समर्थन करें। आप उन्हें मदद करें और सकारात्मक रूप से सोचने के लिए प्रेरित करें।

कोरोनावायरस के कारण भले ही हमें बहुत सारी परेशानियां हो रही हैं, पर अब हमें इसके साथ सुझबूझ से रहना सीखना होगा। ऐसे में हमें अपने घर वालों से अपने लिए निजी समय निकालने की बात करनी होगी। साथ में हमें भी अपने ऑफिस के काम और घर के कामों के बीच अपने साथी के लिए वक्त निकालने की कोशिश करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

स्वामित्व अधिकारी एवं संचालक-मनीष कुमार साहू,मोबाइल नंबर- 9111780001 चीफ एडिटर- परमजीत सिंह नेताम ,मोबाइल नंबर- 7415873787 पता- चोपड़ा कॉलोनी-रायपुर (छत्तीसगढ़) 492001 ईमेल -wmynews36@gmail.com