अगर आपका स्मार्टफोन हो गया है चोरी या गुम तो ऐसे डाटा सकते हैं डिलीट

स्मार्टफोन हमारे जीवन का अहम हिस्सा बन गया है। वहीं इसका गुम हो जाना हमारे लिए किसी भयावह सपने से कम नहीं होता है। इसका आर्थिक नुकसान तो होता ही है, साथ ही उसमें हमारी निजी जानकारियां भी होती हैं, जो अगर किसी के हाथ लग जाएं तो हमें बड़ी मुसीबत में डाल सकती है। अगर कभी आपको ऐसी स्थिति का सामना करना पड़े तो आप ऑनलाइन ही अपने स्मार्टफोन से सभी निजी जानकारियां, फोटोग्राफ, डॉक्यूमेंट्स आदि सुरक्षित तरीके से डिलीट कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे…

बेहतर होगा कि इससे पहले आपका फोन गुम हो जाए या चोरी हो जाए, तो पहले ही सावधानी बरतते हुए फोन के प्लेस्टोर में जाएं और वहां Find My Device को अपने फोन में इंस्टॉल कर लें। एप में लॉन-इन करके उसे एक्टिव भी कर लें।

स्टेप-1


वहीं अगर फोन गुम हो गया है, तो अपने लैपटॉप या पीसी पर इंटरनेट खोलें और https://myaccount.google.com/find-your-phone या https://www.google.com/android/find? पर जाएं। वहां आपको लॉग-इन करने का ऑप्शन मिलेगा।

स्टेप-2


जो जीमेल का लॉग-इन आईडी आप पुराने फोन यानी कि चोरी हुए फोन स्मार्टफोन में इस्तेमाल कर रहे थे, उसी से इसमें लॉग-इन करना है। वहीं इस सुविधा के लिए आपके चोरी हुए फोन में भी इंटरनेट का ऑन होना जरूरी है।

स्टेप-3


लॉग-इन करने के बाद आपको इस पेज पर री-डायरेक्ट करेगा, जहां आपको अपनी इस्तेमाल हो रही डिवाइसेज की लिस्ट दिखाई देगी। इन्हीं में आपको अपनी चोरी या गुम हुई डिवाइस भी नजर आएगी।

स्टेप-4


उस डिवाइस पर क्लिक करने के बाद मैप पर ले जाएगा, जहां आप देख सकते हैं कि आपकी चोरी हुई डिवाइस की लोकेशन कहां है। लेफ्ट साइड में आपको डिवाइस के मॉडल के नीचे प्ले साउंड, सिक्योर डिवाइस और इरेज डिवाइस का विकल्प भी नजर आएगा।

स्टेप-5


सबसे पहले ऑप्शन में आपको प्ले साउंड का विकल्प मिलेगा, अगर फोन साइलेंट भी होगा, तो भी उसमें रिंग साउंड सुनाई देगी। बशर्ते फोन का इंटरनेट ऑन हो।

स्टेप-6


हीं इसमें दूसरा विकल्प सिक्योर डिवाइस का होगा, जहां आप डिवाइस को लॉक करके गूगल से साइन-आउट कर सकते हैं। साथ ही अपने पीसी से ही फोन में आप रिकलरपी मैसेज और फोन नंबर भी डाल सकते हैं।

स्टेप-7


तीसरा विकल्प में इसमें इरेज डिवाइस का होगा, जिसमें आप अपने चोरी हुए फोन में मौजूद जरूरी डाटा को डिलीट कर सकते हैं। इसका चयन करने के बाद यूजर से उसकी जीमेल आईडी का पासवर्ड मांगा जाएगा। जैसे ही पासवर्ड डालेंगे, चोरी हुए फोन का सभी जरूरी डाटा डिलीट हो जाएगा। लेकिन यह प्रक्रिया तभी पूरी हो पाएगी जब फोन का इंटरनेट चालू हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.