नए माता-पिता के लिए पेरेंटिंग एक चुनौतीपूर्ण काम हो सकता है, जो किसी बच्चे को संभालने का कोई अनुभव नहीं रखते हैं। अनुभवहीन, वे कुछ गलतियाँ करते हैं, जो बच्चे के स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं हो सकता है। जबकि डॉक्टर उन्हें ज्यादातर चीजों के लिए मार्गदर्शन करते हैं, लेकिन फिर भी वह जाने अनजानें में बच्‍चे को नहलाते हुए कुद गलतियां कर बैठते हैं। बच्‍चे को दूध पिलाने से लेकर नहाने तक, बच्चे को सुलाने के लिए, पहले साल में सब कुछ ठीक से करने की जरूरत होती है। आप एक बच्चे के बड़े होने तक हर एक छोटी बात का ध्‍यान रखें, जिससे कि उसे कोई नुकसाना न पहुंचे। यहां एक बच्‍चे के नहाने के पानी के तापमान की जांच करने के लिए बच्‍चे को नहलाने के लिए सभी जरूरी बेबी गलतियां हैं, जिन्‍हें करने से आपको बचना चाहिए।

पानी के सही तापमान की जाँच न करना

बच्चे के लिए नहाने का पानी बहुत ठंडा या बहुत गर्म नहीं होना चाहिए। गर्मियों के दिनों में पानी को सामान्य रखें और ठंड के दिनों में इसे गुनगुना करें। चूंकि नवजात शिशु की त्वचा बहुत नाजुक होती है, इसलिए स्नान के लिए पानी का सही तापमान बनाए रखना महत्वपूर्ण होता है। इसके अलावा, नवजात शिशुओं को बहुत जल्दी निमोनिया हो जाता है। इसलिए, यह बहुत जरूरी होता है कि आप पानी के तापमान की जांच करने के साथ-साथ, बच्‍चे को ठंड से बचाने के लिए उसे नहलाने के तुरंत बाद बच्‍चे की मसाज करके एक तौलिया के साथ लपेट लें।

बाथरूम में बच्चे को अकेला छोड़ना

कभी-कभी हम बच्चे को बाथरूम में अकेला छोड़ देते हैं और तब उसके नहाने के सामान को निकालने जाते हैं। ऐसा कभी न करें, इससे बच्‍चे को डूबने, चोट आदि के खतरे सहित कई जोखिम हो सकते हैं। ऐसे कई मामले हैं, जहां माता-पिता ने एक मिनट के लिए बच्चे को छोड़ दिया और बच्चे ने खुद को चोट पहुंचा दी। यदि आपको छोड़ने की आवश्यकता है, तो किसी को अपनी अनुपस्थिति में बच्चे को देखने के लिए कहें।

बच्‍चे को नहलाने के लिए बहुत अधिक पानी का उपयोग करना

नवजात शिशुओं के लिए, दैनिक स्नान की आवश्यकता नहीं है। इसके अलावा, स्नान के लिए बहुत अधिक पानी का उपयोग न करें। बच्चे को साफ करने के लिए वैकल्पिक दिनों पर स्पंज बाथ कराया जा सकता है। टब का पानी से फुल न भरें, क्योंकि इससे बच्चे को घुटन महसूस हो सकती है। बस सफाई के लिए साबुन का उपयोग करने के बाद शरीर पर थोड़ा पानी डालें। सुनिश्चित करें कि बच्‍चे का सिर या गर्दन पानी में नहीं डूबे। क्योंकि ऐसा करने से पानी उनके फेफड़ों में भर सकता है जिससे अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

एक बड़े बाथटब का उपयोग करना

किसी भी प्रकार की बदबू को रोकने के लिए बच्‍चे को नहलाने के लिए आप एक छोटे बाथ टब का उपयोग करें। इसके अलावा, एक बड़े टब में बच्चे को संभालना छोटे बाथ टब की तुलना में कठिन है। आपको इसके लिए बहुत सारे पानी का उपयोग करने की आवश्यकता भी नहीं होगी और साथ ही बच्‍चे के डूबने या चोट खाने जैसे जोखिमों का खतरा भी कम होगा।

ये कुछ छोटी छोटी गलतियां हैं, जिनका यदि आप ध्‍यान रखें, तो बच्‍चे के नहाने से जुड़े स्वास्थ्य जोखिम को कम किया जा सकता है। इसके अलावा, इससे बच्‍चे को इससे आप एक सुरक्षित स्नान का अनुभव दे सकते हैं। यदि आप एक नए माता-पिता हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप इन सभी सावधानियों का पालन कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Director & CEO - MANISH KUMAR SAHU , Mobile Number- 9111780001, Chief Editor- PARAMJEET SINGH NETAM, Mobile Number- 7415873787, Office Address- Chopra Colony, Mahaveer Nagar Raipur (C.G)PIN Code- 492001, Email- wmynews36@gmail.com & manishsahunews36@gmail.com