मादक पदार्थ चरस व गांजा के साथ हिस्ट्रीशीटर यासीन अली गिरफ्तार

आरोपी थाना पंडरी क्षेत्र में कर रहा था चरस व गांजा की बिक्री

रायपुर – राजधानी पुलिस द्वारा नशे का काला कारोबार करने वाले कारोबारियों के विरूद्ध चलाया जा रहा अभियान ‘‘ऑपरेशन क्लीन‘‘ लगातार जारी रहेगा ।

यह अभियान पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार यादव द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को नशे का काला कारोबार करने वाले लोगों के विरूद्ध विशेष अभियान चलाकर इस पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये है।जिस पर समस्त थाना प्रभारियों द्वारा अपने -अपने थाना क्षेत्र में मुखबीर लगाकर लगातार पेट्रोलिंग व सूचना संकलन कर नशे का काला कारोबार करने वाले कारोबारियों के संबंध में सूचना एकत्रित की जा रही है। इसी दौरान दिनांक 04.01.2021 को सायबर सेल की टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना सिविल लाईन का हिस्ट्रीशीटर यासीन अली थाना पंडरी क्षेत्रांतर्गत दलदल सिवनी स्थित विज्ञान भवन गेट पास मादक पदार्थ चरस व गांजा की बिक्री कर रहा है।

जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी एवं नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन नसर सिद्धकी द्वारा सायबर सेल एवं थाना पंडरी की संयुक्त टीम का गठन कर आरोपी को रंगे हाथ पकड़ने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

टीम द्वारा उक्त स्थान पर जाकर घेराबंदी कर आरोपी यासीन अली को गांजा व चरस के साथ पकड़ा गया। टीम द्वारा आरोपी यासीन अली के कब्जे से 335 ग्राम चरस एवं 05 किलो ग्राम गांजा कीमती लगभग 1,00,000/- रूपये जप्त किया गया। आरोपी के विरूद्ध थाना पंडरी में अपराध क्रमांक 02/21 धारा 20बी एवं 21बी एन.डी.पी.एस. एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया जाकर आरोपी को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्यवाही किया गया।

आरोपी यासीन अली थाना सिविल लाईन का हिस्ट्रीशीटर है एवं बहुत ही शातिर किस्म का बदमाश है।आरोपी के विरूद्ध थाना सिविल लाईन सहित रायपुर के अलग-अलग थानों में दर्जनों भर अपराध पंजीबद्ध है। आरोपी गंभीर अपराधों को कारित करने के साथ ही अन्य कई बड़ी वारदातो को अंजाम देने के प्रकरण में कई बार जेल निरूद्ध रह चुका है।

गिरफ्तार आरोपी – यासीन अली पिता सराफत अली उम्र 34 साल निवासी ईरानी डेरा बी.एस.यू.पी. कालोनी थाना पंडरी रायपुर।

Leave A Reply

Your email address will not be published.