Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

Hindi Diwas 2019:दुनिया के वो खूबसूरत देश जहां गर्व से बोली जाती है हिंदी भाषा

Hindi Diwas 2019

Hindi Diwas 2019: हिंदी भाषा भारत की आधिकारिक भाषा और संयुक्त अरब अमीरात में मान्यता प्राप्त अल्पसंख्यक भाषा है। हिंदी भारत में लगभग 4.25 करोड़ लोगों की पहली भाषा है और करीब 12 करोड़ लोगों की दूसरी भाषा है।हिंदी का नाम फारसी शब्द “हिंद” से लिया गया है, जिसका अर्थ है “सिंधु नदी की भूमि।” फारसी बोलने वाले तुर्क जिन्होंने गंगा के मैदान और पंजाब पर आक्रमण किया,(Hindi Diwas 2019) 11वीं शताब्दी की शुरुआत में सिंधु नदी के किनारे बोली जाने वाली भाषा को “हिंदी” नाम दिया था।

आज हम आपको उन देशों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां ‘हिंदी’ बोली जाती है। जो लोग हिंदीभाषी हैं, उनके लिए ये अच्छी खबर है क्योंकि इन देशों में आप बेझिझक हिंदी बोल सकते हैं और आपको समझने वाले लोग भी वहां मिल जाएंगे।

नेपाल

नेपाल में हिंदी भाषी लोगों का दूसरा सबसे बड़ा समूह है। लगभग आठ मिलियन नेपाली हिंदी भाषा बोलते हैं। हालांकि, एक बड़ी आबादी द्वारा हिंदी बोले जाने के बावजूद, नेपाल में हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता प्राप्त नहीं है। 2016 में सांसदों ने हिंदी भाषा को एक राष्ट्रीय भाषा के रूप में शामिल करने की मांग की थी।

संयुक्त राज्य अमेरिका

जानकर आश्चर्य होगा, लेकिन संयुक्त राज्य अमेरिका हिंदी भाषी लोगों के तीसरे सबसे बड़े समूह का घर है। लगभग 650, 000 लोग यहां हिंदी भाषा बोलते हैं, जो इसे संयुक्त राज्य में 11वीं सबसे लोकप्रिय विदेशी भाषा बनाती है।हालांकि, अंग्रेजी भाषा के वर्चस्व के कारण भाषा बोलने वाले ज्यादातर इसका इस्तेमाल घर पर करते हैं। संयुक्त राज्य में हिंदी के मूल वक्ता बहुत कम हैं, जिनमें से अधिकांश भारत के अप्रवासी हैं।

मॉरीशस

मॉरीशस के एक तिहाई लोग हिंदी भाषा बोलते हैं। देश का संविधान राष्ट्रीय भाषा को स्पष्ट नहीं करता है, हालांकि अंग्रेजी और फ्रेंच संसद की आधिकारिक भाषा हैं। अधिकांश मॉरीशस मूल भाषा के रूप में मॉरीशस क्रियोल बोलते हैं।

फिजी

फिजी में हिंदी भाषा भारतीय मजदूरों के यहां आगमन के बाद आई। फिजी में ये उत्तर पूर्वी भारत से आए, जहां अवधी, भोजपुरी और कुछ हद तक मगही बोलियां बोली जाती थीं। इन बोलियों को उर्दू के साथ जोड़ा गया, जिसके परिणामस्वरूप एक नई भाषा का निर्माण हुआ, जिसे शुरू में फिजी बाट के रूप में जाना जाता था।

न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड-भारत सस्टेनेबिलिटी चैलेंज 2017 के अनुसार, हिंदी न्यूजीलैंड में “चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली” भाषा है। दोनों देशों के बीच बढ़ते सांस्कृतिक संबंध इसकी बड़ी वजह है।

जर्मनी

जर्मनी में तो कई दशकों से हीडलबर्ग,लीपजिग और बॉन सहित विश्वविद्यालयों और शहरों में हिंदी और संस्कृत पढ़ाई जा रही है।

शिक्षा की अन्य खबरों से अपडेट रहने के लिए यहां क्लिक करें। 
सरकारी नौकरियों की अन्य खबरों से अपडेट रहने के लिए यहां क्लिक करें। 

हमारे इस mynews36 पोर्टल में प्रतिदिन नए-नए सरकारी व प्राइवेट नौकरी की जानकारी प्रदान की जाती है।अगर आप भी इंट्रेस्टेड है तो गूगल प्लेस्टोर पर जाकर अभी mynews36 App डाउनलोड कर सकते है साथ ही हमारे WhatsApp Group व फेसबुक पेज में भी जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते।अगर आपको यह खबर अच्छा लगा तो इस खबर को आगे शेयर करें,कोई इस खबर से वंचित न हो ताकि हमारे देश में बेरोजगारी तेजी से मिट सके,सबको अच्छा रोजगार मिले,ताकि हमारा कल का भविष्य उज्जवल हो,आपके एक शेयर से लोगों की भविष्य बन सकती है इससे बड़ी सौभाग्य आपके लिए क्या हो सकता है,आप भी लोगों की मदद करें,आपके भी मदद करने वाले हज़ार खड़े है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.