Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

धान खरीदी और एमएसपी को लेकर मोदी सरकार को इन्होने दी चेतावनी

Warned Modi government

बिलासपुर-कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भक्त चरणदास ने धान खरीदी और एमएसपी को लेकर (Warned Modi government) मोदी सरकार को चेतावननी दी है।छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता और पर्यवेक्षक भक्त चरण दास ने कहा है कि केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ को 2500 रुपए समर्थन में धान खरीदी की अनुमति दे। नहीं तो आर्थिक नाकेबंदी के रास्ते खुले हैं। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार जब बड़े उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर सकती है तो किसानों को समर्थन मूल्य क्यों नहीं दे सकती ? राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि देश की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। रिजर्व बैंक का सोना खुले बाजार में बेचना देश की आर्थिक स्थिति को बताता है।

बेरोजगारी का प्रतिशत देश मे दुनिया से दुगुना है। ज्ञात हो कि इससे पहले भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम और प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया भी मोदी सरकार को खनिज संसाधनों की सप्लाई पर रोक लगाने की (Warned Modi government) चेतावनी दे चुके हैं।सीएम भूपेश बघेल लंबे समय से धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए किए जाने की मांग कर रहे हैं। इस संबंध में उन्होंने पीएम मोदी को कई बार पत्र भी लिखा है। लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने बोनस दिए जाने के चलते समर्थन मूल्य बढ़ाने से इनकार कर दिया है।धान खरीदी और धान के समर्थन मूल्य को लेकर छत्तीसगढ़ में सियासी पारा जोरों पर है। इस मुद्दे को लेकर सीएम भूपेश बघेल और पीएम मोदी के बीच लंबे समय से सियासी ​खींचतान जारी है।

हमारे इस mynews36 पोर्टल में प्रतिदिन नए-नए सरकारी व प्राइवेट नौकरी की जानकारी प्रदान की जाती है।अगर आप भी इंट्रेस्टेड है तो गूगल प्लेस्टोर पर जाकर अभी mynews36 App डाउनलोड कर सकते है साथ ही हमारे WhatsApp Group व फेसबुक पेज में भी जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते।अगर आपको यह खबर अच्छा लगा तो इस खबर को आगे शेयर करें,कोई इस खबर से वंचित न हो ताकि हमारे देश में बेरोजगारी तेजी से मिट सके,सबको अच्छा रोजगार मिले,ताकि हमारा कल का भविष्य उज्जवल हो,आपके एक शेयर से लोगों की भविष्य बन सकती है इससे बड़ी सौभाग्य आपके लिए क्या हो सकता है,आप भी लोगों की मदद करें,आपके भी मदद करने वाले हज़ार खड़े है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.