सरकार ने देश भर में ऑक्सीजन की आपूर्ति के प्रयास तेज किए

सरकार ने देश भर में ऑक्सीजन आपूर्ति की मांग से निपटने के लिए प्रयास तेज किए दिए हैं। केन्‍द्र सरकार ने दस मीट्रिक टन और 20 मीट्रिक टन क्षमता के बीस क्रायोजेनिक टैंकर आयात किये हैं। देश में ऑक्‍सीजन टैंकरों की कमी दूर करने के लिए इन्‍हें विभिन्‍न राज्‍यों को आवंटित कर दिया गया है।

ऑक्‍सीजन का परिवहन बढ़ाने के लिए यह क्रायोजेनिक आईएसओ कंटेनर आयात किये गये हैं। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने उद्योग और आंतरिक व्‍यापार संवर्धन विभाग से परामर्श के बाद इन्‍हें मध्‍य प्रदेश, उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, दिल्‍ली और गुजरात के आपूर्तिकर्ता को आवंटित किया है।

ब्रिटेन से चिकित्‍सा सहायता की पहली खेप आज भारत पहुंची। विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस खेप में सौ वेंटिलेटर और 95 ऑक्‍सीजन कंसेंट्रेटर शामिल हैं। अमरीका, फ्रांस, जर्मनी, इजराइल और यूरोपीय संघ सहित कई राष्‍ट्रों ने कोविड महामारी से निपटने के लिए भारत को सहायता का वायदा किया है। इन देशों ने कहा कि वे भारत को ऑक्‍सीजन, नैदानिक परीक्षण, वेंटिलेटर और सुरक्षा कवच उपलब्‍ध करायेंगे।

रेलवे ने महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और दिल्ली को छह ऑक्सीजन एक्सप्रेस से लगभग 4 सौ पचास मीट्रिक टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति की है। 26 टैंकरों के माध्यम से करीब दस हजार किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करके तरल चिकित्सा ऑक्सीजन का वितरण किया गया है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि रेलवे द्वारा देश के विभिन्न हिस्सों में तरल चिकित्सा ऑक्सीजन पहुंचाने का क्रम जारी है।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस से दिल्ली को आज सुबह 70 मीट्रिक टन से अधिक तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की पहली खेप प्राप्त हुई। मंत्रालय ने बताया है कि वर्तमान में एक और ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो से जबलपुर के रास्ते भोपाल जा रही है। यह रेलगाड़ी छह टैंकरों में 90 मीट्रिक टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन ले जा रही है, इससे मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की मांग से पूरी हो सकेगी ।

इस बीच, लखनऊ से एक और खाली रेलगाड़ी बोकारो पहुंच गई है, इस रेलगाड़ी से उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन आपूर्ति करने के लिए ऑक्सीजन टैंकर लाए जाएंगे। अनुमान के अनुसार रेलवे ने उत्तर प्रदेश को दो सौ दो मीट्रिक टन, महाराष्ट्र को एक सौ 74 मीट्रिक टन और दिल्ली को सत्तर मीट्रिक टन की आपूर्ति की है। अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश को करीब चौंसठ मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हो जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.