राज्यपाल को गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड संस्था ने वर्ल्ड रिकार्ड का प्रमाण पत्र प्रदान किया

17 दिसंबर 2020 को हुई छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग की वर्चुअल बैठक को वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज किया गया

रायपुर- राज्यपाल अनुसुईया उइके को आज राजभवन में 17 दिसंबर 2020 को हुए वर्चुअल बैठक के लिए गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के प्रतिनिधि ने वर्ल्ड रिकार्ड का प्रमाण पत्र प्रदान किया। राज्यपाल ने इसके लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि इसके लिए छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग और उनके अध्यक्ष शिववरण शुक्ल बधाई के पात्र हैं। इसमें प्रदेश के 15 निजी विश्वविद्यालय जुड़े हुए थे और उच्च शिक्षा की गुणवत्ता पर सार्थक संवाद हुआ था। ऐसे आयोजन से अच्छे विचारों का आदान-प्रदान होता है।

इस अवसर पर संस्था के प्रतिनिधि श्रीमती सोनल राजेश शर्मा ने बताया कि आयोग द्वारा 17 दिसंबर 2020 को हुई बैठक में प्रदेश के 15 निजी विश्वविद्यालय जुड़े हुए थे। ऐसा पहला अवसर था कि किसी वेबिनार में निजी विश्वविद्यालय एक साथ शामिल हुए हों और लंबे समय तक ऑनलाइन बैठक हुई हो। यह बैठक राज्यपाल सुश्री उइके के मार्गदर्शन में हुआ था।इस बैठक को वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज किया गया है।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष शिववरण शुक्ल, आयोग के सचिव रामजी द्विवेदी एवं आयोग की प्रशासनिक सदस्य रेणु देशमुख भी उपस्थित थीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.