घोटुल निर्माण: आदिवासी संस्कृति परम्परा को पुनर्जीवित करने के लिए आदिवासी समाज ने मुख्यमंत्री को दी बधाई

रायपुर- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा नारायणपुर प्रवास के दौरान बस्तर की प्राचीन संस्कृति एवं परम्परा को पुनर्जीवित करने के उद्देश्य से घोटुल निर्माण और देवगुड़ियों के विकास की घोषणा का आदिवासी समाज ने स्वागत किया है और इसके लिए मुख्यमंत्री को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा है कि घोटुल के निर्माण से आदिवासियों की संस्कृति एवं प्राचीन परंपरा को पुनर्जीवन प्राप्त होगा। घोटुल, आदिवासी समाज की सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ-साथ शिक्षा एवं संस्कार का केन्द्र रहा है।

घोटुल के निर्माण से आदिवासी समाज अपनी प्रथा एवं परम्परा के साथ वर्तमान शिक्षा से शिक्षित एवं संस्कारित होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से यह भी आग्रह किया है कि घोटुल के निर्माण में समाज प्रमुखों की भागीदारी सुनिश्चित किया जाना मील का पत्थर साबित होगा।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 9 जनवरी को नारायणपुर प्रवास के दौरान 100 घोटुल निर्माण के साथ ही जिले की 104 ग्राम पंचायतों में देवगुड़ी निर्माण की भी घोषणा की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.