कई ऐसे व्यक्तियो की फर्जी हाजरी भी जो गांव में रहते ही नही

घुमका MyNews36 प्रतिनिधि- ग्राम पंचायत पटेवा में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के तहत नाली निर्माण भूमि सुधार तालाब गहरीकरण जैसे कार्यों में मेटो व रोजगार सहायक द्वारा मस्टररोल में फर्जी हाजिरी भरकर लाखों रुपए के गबन एवं फर्जीवाड़े करने का मामला सामने आया है । ग्राम पटेवा में इसी वर्ष अप्रैल माह से मनरेगा के तहत नाली की सफाई, भूमि सुधार , नया तालाब निर्माण एवं गहरीकरण जैसे कार्य कराए गए जिसमें सैकड़ो लोगो की फर्जी हाजरी डालकर लाखो रुपये का घोटाला मेटो व रोजगार सहायक की मिलीभगत से किया जाना बताया जा रहा है। आश्चर्य की बात यह है कि कई ऐसे लोगों की हाजिरी भरी गई है जो कभी उक्त कार्य में गया भी नहीं है कई ऐसे लोग हैं जो गांव में रहते ही नहीं है सूत्रों के अनुसार पंचायत प्रतिनिधि, मेट, पंच, रोजगार सचिव एव कोटवार जैसे लोगो के परिवार व रिश्तेदारों की फर्जी हाजरी व कुछ लोगो के घर के पारिवारिक एक से अधिक सदस्य जो कभी काम मे गए ही नही है  व कुछ तो बुजुर्ग भी है ऐसे लोगो की भी फर्जी हाजिरी मस्टररोल में दर्ज है। 

उक्त पूरे मामले में प्रथम दृष्टया तो मास्टर रोल में रोजगार सचिव व मेटो द्वारा अपने चहेतो परिवार के व अन्य करीबी लोगों की फर्जी हाजिरी भरकर लाखों रुपए का घोटाला एवं फर्जीवाड़े किया है । वहीं दूसरी ओर जो मजदूर वास्तव में मनरेगा के तहत मजदूरी किए हैं उनकी हाजरी भी काटी गई है और सैकड़ो फर्जी लोगो की हाजरी का पूरा पूरा भुगतान किया गया है इस पूरे कार्य में रोजगार सहायक व मेटो द्वारा व्यापक स्तर पर मनमानी व लापरवाही बरतते हुए शासन को लाखों रुपये का चूना लगाया है। जबकि दूसरी तरफ इन फर्जी मजदुरो की हाजरी के के चलते वास्तविक मजदूरों की मजदूरी भी काट ली गई और उन्हें और अन्य दिनों के कार्य से वंचित भी होना पड़ा। चूँकि फर्जी हाजरी भरकर कार्य दिवस बढ़ा दिया गया जिससे कि फर्जी मजदुरो को फायदा पहुँचाया जा सके इस तरह से मेटो व रोजगार सहायक द्वारा वास्तविक मजदुरो का शोषण कर अपने लोगो को फायदा दिलाकर शासन के लाखों रुपये का गबन व फर्जीवाड़ा किया गया है जिससे कि ग्रामीणों व खासकर वास्तविक मजदुरो के मन मे काफी आक्रोश देखा जा रहा है।

खबरों के अनुसार पटेवा के ग्रामीणों ने मनरेगा कार्य के तहत किये गए इस वर्ष के तमाम फर्जीवाड़े व इस तरह के भ्रष्ट मेटो व रोजगार सचिव को तत्काल हटाने व इतने बड़े घोटाले व फर्जी वाड़े की सूक्ष्मता से उच्चस्तरीय जांच करने व गबन की गई राशि की वसूली व संलिप्त लोगो पर कार्यवाही के लिए संबंधित विभाग व जिला प्रशासन से करने की तैयारी कर ली है। ग्रामीणों ने बताया कि अगर इस मामले की जांच गंभीरता पूर्वक नही की गई तो ग्रामीणजन बड़ी संख्या में प्रभारी मंत्री एव  मुख्यमंत्री से सीधे मिलकर उक्त पूरे मामले की शिकायत कर कार्यवाही हेतु मांग करेंगे।

आपके माध्यम से मुझे यह जानकारी मिली है मामला गंभीर है पहले मैं पूरे मामले की जांच करवा लेता हूं इसके बाद आगे जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ उचित कार्यवाही होगी,निश्चित तौर पर की जावेगी।गोपाल सिंग कंवर ,मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत राजनांदगांव

MyNews36 प्रतिनिधि मुबारक खान की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

स्वामित्व अधिकारी एवं संचालक-मनीष कुमार साहू,मोबाइल नंबर- 9111780001 चीफ एडिटर- परमजीत सिंह नेताम ,मोबाइल नंबर- 7415873787 पता- चोपड़ा कॉलोनी-रायपुर (छत्तीसगढ़) 492001 ईमेल -wmynews36@gmail.com