राजस्व पुस्तक परिपत्र के तहत 40 लाख रूपए की आर्थिक सहायता

छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ितों को जिला कलेक्टर के माध्यम से आर्थिक अनुदान सहायता स्वीकृत की जाती है। बस्तर जिले में ऐसे 10 प्रकरणों में 40 लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

राजस्व पुस्तक परिपत्र के प्रावधानों के तहत बस्तर जिले के अंतर्गत विकासखण्ड बकावण्ड के ग्राम तोंगकोंगरा की देवकी, छिंदगांव की मंगली और बास्तानार की सुनीता गावड़े की सांप के काटने से, टालनार के भुवनेश्वर की पानी में डूबने और काकलूर के सोमारूराम की मृत्यु आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हो जाने पर मृतकों के पीड़ित परिजनों को चार-चार लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

इसी तरह से तोकापाल विकासखण्ड के ग्राम सिरिसगुड़ा के लखु, टिकरा धनोरा के सुखदेई और एरण्यवाल के पाण्डूराम की पानी में डूबने से और ग्राम छापरभानपुरी के हड़में की अकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हो गई थी और विकासखण्ड लोहण्डागुड़ा के ग्राम मारडूम के भुरलूराम कश्यप की मृत्यु पानी में डूबने से होने पर मृतकों के पीड़ित परिजनों को चार लाख रूपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.