Federation movement

रायपुर बिजली कर्मचारी महासंघ,कर्मचारी समस्याओं के निराकरण में पॉवर कंपनी प्रबंधन की उपेक्षा से आहत होकर आंदोलन की राह पर बढ़ रहा है।महासंघ की विज्ञप्ति में बताया गया है कि-अध्यक्ष के साथ बैठक में हुई सहमति के बाद भी आज तक संविदा कर्मियों को नियमित नहीं किया जा सका है।

मुख्यमंत्री के गृह जिला दुर्ग के 8 कार्यालय सहायक-1 को अनुभाग अधिकारी बनने से वंचित कर दिए गए हैं,अधिकारियो के पदों का रिस्ट्रक्चरिंग कर बड़ी संख्या में पदोन्न्ति प्रदान करने के 6 माह से भी अधिक समय बीत जाने के बाद भी कर्मचारियों के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया गया है।

केश लेस मेडिकल सुविधा पर आज भी अनिर्णय की स्थिति है।आइटीआइ कर्मचारियों को टी ए ग्रेड 2 बनाने की प्रक्रिया 3 साल बाद भी पूर्ण नहीं किया जा सका है,इसके अतिरिक्त अनेक मुद्दों पर विचार नहीं किया जा रहा है।

इन सबकी ओर प्रबंधन का ध्यानाकर्षण के लिए आगामी 26 जून को सभी क्षेत्रीय मुख्यालयों तथा पॉवर स्टेशनों में गेट मीटिंग और ज्ञापन का कार्यक्रम रखा गया है।इसके बाद डंगनिया मुख्यालय के समक्ष 6 जुलाई को गेट मीटिंग और ज्ञापन का कार्यक्रम रखा गया है।इसके बाद भी निर्णय नहीं होने पर अगस्त से धरना प्रदर्शन आंदोलन किया जाएगा।

Summary
0 %
User Rating 0 Be the first one !
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ अम्बागढ़ चौकी में बैठक सम्पन्न

राजनांदगांव-छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ की बैठक बी आर सी भवन अम्बागढ़ चौकी में प्रांत…