कहा हम भी राज्य के ही कर्मचारी हैं न रखे दुर्भावना

Federation

बिलासपुर- छ.ग राज्य कर्मचारी संघ ने शिक्षाकर्मी से शिक्षक बने कर्मचारियों के लिए राज्य शासन द्वारा चलाये जा रहे पदोन्नति प्रक्रिया के विरोध में ज्ञापन दिया है जिसमें संविलियन से आए शिक्षाकर्मियो को पदोन्नति नही दिए जाने का दलील दिया गया है जो राज्य कर्मचारी संगठन के दुर्भावना से प्रेरित है इसका विरोध करते हुए सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय कोषाध्यक्ष/प्रान्तीय संयोजक शिव सारथी ने कहा है कि-राज्य सरकार द्वारा हमे बकायदा 1 जुलाई 2018 की स्थिति में शिक्षा विभाग में संविलियन किया गया है वह भी हमारे प्रथम नियुक्ति तिथि के आधार पर वरिष्टता सूची जारी कर ऐसे में विभाग द्वारा पूर्व सेवा अवधी की गणना करते हुए पदोन्नति दिए जाने की प्रक्रिया आरम्भ किया गया है जिस पर आपत्ति जताना सरासर गलत और दुर्भावना से प्रेरित है जबकि नियमित शिक्षको का प्रमोशन हर वर्ष होता है यह तक पीजी डिग्रीधारी नियमित सहायक शिक्षको को डायरेक्ट व्याख्याता के पद पर जम्पिंग प्रमोशन दिया गया क्या ओ सही था।अब अगर वर्षो बाद हमारे लिए पदोन्नति का रास्ता खुल रहा है तो इस पर किसी भी संघ के द्वारा रोड़ा लगाना विकृत मानसिकता को दर्शाता है।

छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रान्तीय अध्यक्ष मनीष मिश्रा सहित प्रान्तीय संयोजक सुखनन्दन यादव,अजय गुप्ता रंजीत बनर्जी,छोटेलाल साहू ,बलराम यादव,अश्वनी कुर्रे, संकीर्तन नन्द,बसन्त कौशिक,हुलेश चन्द्राकर सहित संभागीय अध्यक्ष दिलीप पटेल,सिराज बख्श,रवि लोहसिंघ, कौशल अवस्थी,शिव मिश्रा ने शिक्षाकर्मियो के पदोन्नति प्रक्रिया का विरोध करने वाले राज्य कर्मचारी संघ की भर्सना किया है,और कहा है कि भविष्य में ऐसे दुर्भावनापूर्ण कार्य का मुंहतोड़ जवाब दिया जायेगा।

Summary
0 %
User Rating 4.65 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In शिक्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

World yoga day :राजधानी में योग दिवस पर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी जोरो पर

रायपुर। विश्व योग दिवस को लेकर प्रदेश में तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।वही इनडोर स्टेडियम ब…