तिरूवनंतपुरम- केरल के मुख्य चुनाव अधिकारी टीका राम मीणा ने मंगलवार को ऐसी शिकायतों पर एक रिपोर्ट मांगी है,जिनमें कहा गया है कि कांग्रेस नीत यूडीएफ कार्यकर्ताओं ने कन्नूर और कासरगोड संसदीय क्षेत्रों में 23 अप्रैल को कथित तौर पर फर्जी मतदान किया है।उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ माकपा नीत एलडीएफ की शिकायतों को देखते हुये कन्नूर और कासरगोड के जिलाधिकारियों से यूडीएफ के सहयोगी दल इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के कार्यकर्ताओं के कथित तौर पर फर्जी मतदान करने की खबरों को लेकर बढ़ रहे विवाद पर एक रिपोर्ट मांगी गई है।

फर्जी मतदान करने वालों के खिलाफ होगी कार्यवाही

mynews36.com
mynews36.com

मीणा ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘फर्जी मतदान के खिलाफ होने वाली कार्रवाई में किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जायेगा। हम इस मुद्दे को पूरी गंभीरता से देख रहे हैं।इन शिकायतों पर रिपोर्ट मिलने के बाद गौर किया जायेगा।’’वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) ने इस कथित फर्जी मतदान का ‘डिजिटल साक्ष्य’ जारी किया है। इसमें दिखाया गया है कि कासरगोड में एक मतदान केंद्र पर आईयूएमएल के कार्यकर्ता कथित तौर पर फर्जी मतदान कर रहे हैं।

Read More: स्कूलों की आज से हुई ग्रीष्मकालीन की छुट्टियाँ,निजी स्कुल भी नही लगा सकती कक्षाएं

आईयूएमएल के महासचिव केपीए मजीद ने कहा है कि पार्टी इन आरोपों पर तब गौर करेगी जब उसे स्थानीय इकाइयों से इस बाबत रिपोर्ट मिल जायेगी।माकपा की राज्य इकाई के महासचिव कोदियारी बालकृष्ण ने मुख्य चुनाव अधिकारी की आलोचना करते हुये आरोप लगाया है कि मीणा यूडीएफ के हाथों की कठपुतली बने हुये हैं।

Summary
0 %
User Rating 4.6 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In क्राइम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Xiaomi का यह बजट स्मार्टफोन जल्द ही होगा बंद,फरवरी में ही हुआ है लॉन्च

रायपुर-शाओमी ने भारत में अपना नया स्मार्टफोन रेडमी नोट 7एस लॉन्च कर दिया है।इस फोन में भी …