Email

रायपुर- प्रदेश में जल्द ही हिंदी यानी देवनागरी लिपि में यूजर ईमेल आइडी खोल पाएंगे।गूगल और फेसबुक की लगातार स्थानीय भाषाओं पर नजर रखने से केन्द्र सरकार के सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग ने इंटरनेट एण्ड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आइएएमएआइ) और इंटरनेट कॉपोरेशन फॉर असाइनड नेमस एण्ड नंबर्स (आइसीएएनएन) के संयुक्त तत्वावधान में देवनागरी लिपी में मेल आइडी प्रारंभ करने की तैयारी की जा रही है।दोनों ही एसोसिएशन के सदस्य प्रदेशभर के 36 इंक में संचालित स्टार्ट कंपनियों को छह दिवसीय प्रशिक्षण देंगे ताकि वेबसाइट और एप का इस्तेमाल हिंदी यानी देवनागरी लिपि में किया जा सके।

बतौर विशेषज्ञ आइसीएएनएन के एंबेसडर हरिश चौधरी ने बताया कि0गूगल और फेसबुक के अंग्रेजी माध्यम में यूजर सीमित हो गए हैं।ऐसे में गूगल और फेसबुक की नजर अब हिंदी यानी देवनागरी पर है।ऐसे में हम अपने हिंदी प्लेटफार्म को मजबूत करें तो भविष्य में विश्वभर में बेहतर यूजर देश में ही मिलेंगे।

हिंदी में मेल आइडी न होना सबसे बड़ी चुनौती

आइएएमएआइ की वाइस प्रेसिडेंट चित्रा चक्रवर्ती ने बताया कि-हिंदी यानी देवनागरी के लिए बहुत सी चुनौती है।इसका प्रमुख कारण हिंदी में ईमेल आइडी न होना है।इन्हीं कारणों से देश में यूजर की कमी है।इन्हीं बातों को ध्यान में रखकर प्रदेश में देवनागरी लिपी में इमेल आइडी बनाने की प्रक्रिया को समझाएंगे।

देवनागरी में इंटरनेट पर बहुत से कंटेंट उपलब्ध हैं,लेकिन उन्हें व्यूज नहीं मिलने के कारण बेहतर व्यापार उनसे नहीं हो पा रहा है।समाचार पत्र भी अपने कंटेंट को हिंदी में डालते हैें लेकिन हेडिंग अंग्रेजी में जा रही है। देवनागरी का लगातर बढ़ावा होने पर देश के कोने-कोने से व्यापार को बढ़ाया जा सकता है।

ये होगा फायदा

वर्तमान में वेबसाइट हिंदी में उपलब्ध है लेकिन किसी भी तरह की जानकारी के आदान-प्रदान के लिए मेल आइडी की जरूरत होती है। मेल आइडी अंग्रेजी में होने के कारण ग्रामीण अंचलों के लोगों को दिक्कतों का समाना करना पड़ता है। ऐसे में मेल आइडी हिंदी में होने से यूजर की संख्या बढ़ जाएगी और ईकामर्स को भी बढ़वा होगा।

Summary
0 %
User Rating 5 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In तकनिकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Transfer :तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के स्थानांतरण आदेश जारी

जिले में 12 विभागों के कर्मचारियों का हुआ तबादला कांकेर-उत्तर बस्तर कांकेर 16 जुलाई 2019- …