Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

ear worm :कान में चला गया है कीड़ा तो इन 4 आसान तरीकों से निकालें बाहर,नहीं होगा दर्द

ear worm

रायपुर-कई बार सोते हुए कान में कोई कीड़ा,मच्छर या चींटा चला जाता है,जिसके कारण कान में तेज दर्द होता है।अक्सर छोटे बच्चों के कान में खेलते हुए या लेटे हुए कीड़े घुस जाते हैं।कान में कीड़ा जाने पर तेज दर्द तो होता ही है,साथ ही कई बार ये खतरनाक भी हो सकता है। दरअसल कीड़ा अगर कान के पर्दे तक पहुंच जाए,तो वो पर्दे को नुकसान पहुंचा सकता है और आपको बहरा भी बना सकता है।

कान को टेढ़ा कर झटका दें

अगर आपको कान में कीड़ा जाते हुए महसूस हुआ है,तो इसका मतलब है कि-अभी वो ज्यादा अंदर नहीं जा पाया है।ऐसे में आप कान को टेढ़ा करें और जमीन की तरफ उस कान को रखें जिसमें कीड़ा गया है।इसके बाद झटका दें या दूसरे कान की तरफ थपकी मारें या कान इसी तरह करके उछलें।इससे कीड़ा अगर छोटा है,तो वो बाहर आ जाता है।ध्यान दें कि-कीड़ा जाता महसूस होने पर उसमें उंगली या कोई तीली न डालें,क्योंकि इससे कीड़ा और अंदर जा सकता है।

कपूर का पानी

अगर कान में चीटीं या कोई छोटा कीड़ा चला गया है,जो आसानी से नहीं निकल रहा है,तो थोड़े से पानी में कपूर को घोलें और इस पानी को कान में डालें।इसके बाद कान को नीचे की तरफ पलटकर झटका दें।चीटीं या कीड़ा जो भी कान में है,इससे मर जाएगा और बाहर आ जाएगा।

कान में तेल डालें

अगर कान में कीड़ा जिंदा है और चल रहा है,तो आप सबसे पहले कान में कोई भी वेजिटेबल ऑयल (वनस्पति तेल) जैसे- सरसों का तेल, नारियल का तेल आदि डालें,जिससे कीड़ा मर जाए।तेल डालने से कई बार कीड़ा पलटकर बाहर भी आ जाता है।आप चाहें तो तेल को हल्का गर्म करके,गुनगुना तेल डालें,इससे कीड़ा मर भी जाएगा और फिर कान को नीचे की तरफ करके झटका देने से बाहर निकल आएगा।

गुनगुना पानी डालें

अगर कीड़ा कान में ही मर गया है तो इसे बाहर निकालने के लिए आप कान में गुनगुना पानी डालें और फिर कान को नीचे की तरफ झुकाकर झटका दें।इससे कीड़ा बाहर आ जाएगा। ध्यान दें कि पानी बहुत ज्यादा गर्म न हो, क्योंकि कान बहुत संवेदनशील अंग है और कान का पर्दा बहुत झीना होता है।

डॉक्टर से संपर्क करें

अगर आप कीड़े को आसानी से नहीं निकाल पा रहे हैं या पूरे कीड़े के बजाय उसके कुछ टुकड़े ही बाहर आ पाए हैं,तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।दरअसल अगर कान में कीड़ा या उसके शरीर का छोटा सा हिस्सा भी रह गया, तो ये कान में इंफेक्शन का कारण बन सकता है।

कान में इंफेक्शन के लक्षण इस प्रकार हैं-

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.