वैक्सीन देरी से पहुंचने के कारण सम्पूर्ण जिलों में आज से शुरू होगा महाअभियान

रायपुर – कोरोना महामारी से मुकाबले के लिए देश में सबसे बड़ा टीकाकरण महाअभियान शनिवार से शुरू हुआ। इसके तहत छत्तीसगढ़ में 18 से 44 वर्ष के लोगों को टीका लगाया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों और आला अफसरों की मौजूदगी में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से दोपहर दो बजे इसकी शुरुआत की। पहले दिन रायपुर सहित 14 जिलों में ही टीकाकरण शुरू हो पाया है। इन जिलों में 1693 लोगों को टीका लगाया गया।

अफसरों ने बताया कि करीब डेढ़ लाख वैक्सीन (टीका) की खेप हैदराबाद से शनिवार सुबह 11.30 बजे विमान से रायपुर पहुची। इस बात की जानकारी पहले से थी इस वजह से वैक्सीन के वेयर हाउस पहुंचते ही वितरण शुरू कर दिया गया। तय मापदंडों के अनुसार 146 विकासखण्डों के लिए 800-800 और 14 नगर निगमों के लिए 2300-2300 वैक्सीन रवाना कर दी गई।

बस्तर और सरगुजा संभाग में वैक्सीन देर शाम और कुछ स्थानों पर देर रात तक पहुंची। इसी तरह बाकी जिलों के अंदरूनी क्षेत्रों में भी वैक्सीन पहुंचने में विलंब हो गया। इस वजह से वहां रविवार से वैक्सीनेशन (टीकाकरण) शुरू होगा।

सीएम ने की हितग्राहियों से बात

टीकाकरण का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री ने भिलाई-दुर्ग, रायपुर तथा बिलासपुर में कोविड-19 का टीका लगवाने वाले लोगों से चर्चा की और उन्हें कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए नियमों का पालन करने की सलाह भी दी। इस मौके पर उन्होंने अभियान में जुटी टीकाकरण टीम को शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण एक महत्वपूर्ण हथियार है। उन्होंने बताया कि राज्य में टीकाकरण अभियान के सफल संचालन के लिए शासन तथा प्रशासन के समन्वित प्रयास से हर आवश्यक व्यवस्था पूरी कर ली गई है। अभी 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण के लिए अंत्योदय राशनकार्डधारियों को प्राथमिकता दी गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.