राजनांदगांव- डॉ. खूबचंद बघेल कृषक रत्न पुरस्कार वर्ष 2020 के लिए जिले के किसान 31 जुलाई 2020 तक आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र उप संचालक कृषि कार्यालय से निःशुल्क प्राप्त किए जा सकते है। निर्धारित प्रपत्र में पूर्ण रूप से भरे आवेदन पत्र उप संचालक कृषि कार्यालय में जमा करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2020 है। अंतिम तिथि के बाद प्राप्त होने वाले आवेदनों पर विचार नहीं किया जाएगा। पुरस्कार की संख्या एक होगी एवं पुरस्कार के स्वरूप 2 लाख रूपए एवं प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।

योग्यता मापदण्ड

इस प्रतियोगिता में केवल ऐसे किसान ही सम्मिलित होने के लिए पात्र होंगे जो विगत दस वर्षाे से कृषि का कार्य छत्तीसगढ़ क्षेत्र में कर रहा हो, छत्तीसगढ़ राज्य का मूल निवासी हो, कुल वार्षिक आमदानी में से न्यूनतम 75 प्रतिशत आय कृषि से हो एवं तकाबी, सिंचाई शुल्क, सहकारी बैंकों का कालातीत ऋण न हो।

चयन एवं मूल्यांकन का मापदण्ड

फसल विविधिकरण एवं उत्पादकता वृद्धि के लिए नवीन कृषि तकनीकी अपनाने का स्तर। उन्नत कृषि तकनीकी के प्रचार-प्रसार एवं अन्य कृषकों द्वारा अपनाने के लिए प्रेरित करने हेतु प्रयास। विगत तीन वर्षाे में विभिन्न फसलों की उत्पादकता का स्तर। कृषि एवं सहयोगी क्षेत्र में किसान द्वारा किया गया उल्लेखनीय एवं नवोन्वेषी कार्य।

पुरस्कार का कार्यक्षेत्र

कृषि क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य करने वाले किसान को यह दिया जाएगा। ऐसा किसान जो खेती में नवीन तकनीकी को अपनाता हो, जिसकी फसल सघनता अच्छी हो, समन्वित कृषि प्रणाली एवं फसल विविधीकरण अपनाता हो, कृषि क्षेत्र में नवोन्वेषी कार्य करता हो, भूमि एवं जल संरक्षण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया हो, कृषि संसाधनों का श्रेष्ठतम उपयोग करता हो, कृषि विपणन में जिसका योगदान हो, को यह पुरस्कार दिया जाएगा।

पुरस्कार के लिए किसानों के आवेदन पत्र में उल्लेखित तथ्यों का सत्यापन विकासखंड स्तरीय समिति द्वारा किया जाएगा। किसानों का चयन जिला स्तरीय छानबीन समिति एवं राज्य स्तरीय जूरी के द्वारा किया जाएगा और उनके द्वारा लिया गया निर्णय अंतिम होगा। पुरस्कार हेतु आवेदन पत्र कार्यालय वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी एवं कृषि विभाग के वेबसाईट से प्राप्त कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.