AIIMS रायपुर में ब्लैक फंगस केऑपरेशन करने वाले डॉक्टरों का होगा सम्मान

रायपुर – AIIMS में ब्लैक फंगस केऑपरेशन करने वाले डॉक्टरों का सम्मान किया जाने वाला है , एम्स में तीन और चार जुलाई को क्रमशः म्यूकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर दो कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इनमें देश के प्रमुख चिकित्सक दोनों विषयों पर स्वयं के अनुभवों को नए चिकित्सकों के साथ साझा करेंगे। तीन जुलाई को एम्स रायपुर के ईएनटी विभाग के निर्देशन में ब्लैक फंगस के 150 ऑपरेशन पूर्ण करने पर कार्यक्रम आयोजित होगा। आयोजक एनस्थिसिया विभागाध्यक्ष डॉक्टर नंद किशोर अग्रवाल ने बताया कि कार्यक्रम में डायरेक्टर डॉक्टर नितिन एम नागरकर को कोविड-19 और ब्लैक फंगस के आपरेशन में प्रमुख भूमिका निभाने के लिए चिकित्सकों की ओर से सम्मानित करेंगे।

साथ ही ब्लैक फंगस पर आयोजित कार्यक्रम में ऑपरेशन से जुड़े चिकित्सक अपने अनुभव नए चिकित्सकों के साथ साझा करेंगे। चार जुलाई को आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर हड्डी रोग विभाग के तत्वावधान में एआइ इन हेल्थ केयर विषय पर कार्यक्रम आयोजित है। इसमें इंग्लैंड, स्विट्जरलैंड, एम्स दिल्ली, ट्रिपल आईटी दिल्ली और रायपुर, पं. जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, रायपुर सहित कई प्रमुख चिकित्सा संस्थानों के चिकित्सक व्याख्यान देंगे।

ब्लैक फंगस से 58 की मौत

प्रदेश में ब्लैक फंगस के राज्य 201 मरीजों का इलाज चल रहा है। वहीं, 58 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है। राज्य संचालक महामारी नियंत्रक डॉक्टर सुभाष मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में अप्रैल से अब तक ब्लैक फंगस के 367 मरीजों की पहचान की जा चुकी है। सभी पोस्ट कोविड केस हैं। इसमें से 232 के ऑपरेशन हुए हैं, 99 डिस्चार्ज किए गए हैं। 201 सक्रिय मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। ब्लैक फंगस से 58 मौत के मामले में 37 की मौत फंगस से, जबकि 21 ब्लैक फंगस के मरीजों की मृत्यु अन्य बीमारियों की वजह से हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.