CUET 2022

नई दिल्ली / CUET 2022 – देश के प्रतिष्ठित केन्द्रीय विश्वविद्यालयों से पढ़ाई के लिए यूजीसी द्वारा हाल ही में नई शिक्षा नीति लागू की गई है। इस नीति के तहत 12वीं पास कर चुके युवाओं को देश की शीर्ष यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए अब सिर्फ सेंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रेस टेस्ट (CUET 2022) देना होगा। इस प्रवेश परीक्षा को पास करने के बाद किसी भी बोर्ड से पढ़ाई करने वाला छात्र देश की सर्वश्रेष्ठ यूनिवर्सिटीज जैसे डीयू, जेएनयू, बीएचयू, विश्व भारती विश्वविद्यालय समेत सेंट्रल और स्टेट यूनिवर्सिटीज में प्रवेश ले सकेगा जहां उसे 50 से अधिक ग्रेजुएट कोर्स के लिए साल में महज तीन से चार हज़ार रुपए की फीस ही भरनी होगी। नए प्रारूप के अनुसार, अब ये एग्जाम हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा 11 अन्य विभिन्न भाषाओं में कराया जाएगा। वर्ष 2022 का CUET जुलाई में होने की संभावना है

महत्वपूर्ण तिथियां –

  • आवेदन प्रारंभ – 6 अप्रैल, 2022
  • अंतिम तिथि- 6 मई, 2022
  • परीक्षा की संभावित तारीख – जुलाई 2022

टॉप यूनिवर्सिटियों में पढ़ने का सपना होगा पूरा

अभी तक छात्र-छात्राओं को इंटरमीडियट के बाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने के लिए विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा देनी होती थी। इसमें अक्सर विद्यार्थियों को कई तरह की चुनौतियों को सामना करना पड़ता था। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए यूजीसी ने नया विकल्प तैयार किया जिसके बाद अब स्टूडेंट्स को CUET में हासिल किए गए स्कोर के आधार पर एडमिशन मिल जाएगा और युवाओं का बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, दिल्ली यूनिवर्सिटी, जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी जैसे बड़े कॉलेज से पढ़ाई करने का सपना पूरा हो जाएगा।

किस तरह का होगा परीक्षा का प्रश्नपत्र

CUET 2022

सीयूईटी की परीक्षा ऑनलाइन माध्यम में होगी। इसमें तीन सेक्शन होंगे। पहले सेक्शन में 13 भाषाओं में से किसी एक का लैंग्वेज टेस्ट होगा जबकि दूसरे में डोमेन सब्जेक्ट जैसे अकाउंटेंसी, बुककीपिंग, बायोलॉजिकल, गृहविज्ञान, इकोनॉमिक्स, लीगल स्टडी जैसे अन्य चुने गए कोर्स से जुड़े सवालों को हल करना होगा। इसके अलावा तीसरे सेक्शन में नॉलेज, करेंट अफेयर्स, सामान्य बौद्धिक क्षमता, नयूमेरिकल एबिलिटी का टेस्ट देना होगा। इस परीक्षा में प्रश्न एनसीईआरटी आधारित पूछा जायेगा।

निर्धारित सीटों से सात गुना छात्र हो दे सकते हैं परीक्षा

यह परीक्षा देश की मशहूर सेंट्रल यूनिवर्सिटी की लगभग 1,68,000 से अधिक सीटों में दाखिला दिलाने के लिए कराई जानी है। अनुमान है कि इन सीमित सीटों में करीब छ: से सात लाख उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। ऐसे में इस एग्जाम के लिए अभ्यर्थियों को अभी से ही अपनी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए ताकि वो इस परीक्षा में अच्छे अंक से पास होकर मनपसंद यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले सके।

हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.