देश में कोविड टीकाकरण पांच करोड के पार हुआ

CoronaVirus Vaccine
File Photo

नई दिल्ली – केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोवड टीके की दो खुराकों के बीच जो अंतराल बढ़ाया गया है, वह केवल कोविशील्ड टीके के लिए है, और कोवैक्सीन के लिए यह अवधि नहीं बढ़ाई गई है। देश में कोविड टीकाकरण के तहत इन्हीं दो टीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

नई दिल्ली में मीडियो को संबोधित करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि कोविशील्ड की दो खुराकों के बीच अंतराल का पहला टीका लगने के बाद चार से आठ सप्ताह कर दिया गया है। इससे पहले, इस टीके की दो खुराकों के बीच चार से छह सप्ताह का अंतर रखा जाता था। उन्होंने यह भी कहा कि कोवैक्सीन के मामले में दो खुराकों के बीच अंतराल चार से छह सप्ताह का ही रहेगा।

उन्होंने यह भी बताया कि सरकार ने 45 साल से अधिक उम्र के नागरिकों को भी आगामी पहली अप्रैल से कोविड टीका लगाने की अनुमति दे दी है और इसके लिए गंभीर बीमारी की शर्त हटा दी गई है।राजेश भूषण ने यह भी बताया कि 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए पंजीकरण पहली अप्रैल से शुरू हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि यह फैसला इसलिए किया गया है कि क्योंकि देश में कोविड महामारी से मौत का शिकार होने वाले 88 प्रतिशत रोगी 45 और इससे अधिक उम्र के हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि आज सुबह दस बजे तक देशभर में पांच करोड़ आठ लाख से अधिक कोरोना टीके लाभार्थियों को लगाए जा चुके थे।

कोविड मामलों में हाल में हुई बढ़ोतरी का जिक्र करते हुए श्री राजेश भूषण ने कहा कि महाराष्ट्र और पंजाब में नए मामलों की संख्या बड़ी तेजी से बढ़ी है, जो चिंता का विषय है।

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक 28 हजार 699 नए मामले सामने आए हैं और पंजाब में इनकी संख्या दो हजार 254 रही है। देशभर में इस समय महामारी के तीन लाख 68 हजार से अधिक सक्रिय रोगी हैं, जो कुल मामलों का 3 दशमलव एक चार प्रतिशत हैं।

नीति आयोग के स्वास्थ्य संबंधी मामलों के सदस्य डॉक्टर वी.के. पॉल ने कहा है कि सरकार के पास टीकों की पर्याप्त खुराक हैं। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर भी पर्याप्त संख्या में टीकों की खुराक पहुंचा दी गई हैं। उन्होंने कहा कि टीके लगाने का काम सुचारू रूप से चल रहा है और किसी भी मामले में कोई बड़ी समस्या सामने नहीं आई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.