भारत में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं।इसी बीच बुधवार को केवल पांच दिनों में, देश में कोविड-19 के मामले छह लाख से ऊपर पहुंच गए। ऐसा तब हुआ जब ताजा मामलों की वृद्धि दर के साथ-साथ पिछले एक लाख मामलों में मृत्यु दर में मामूली गिरावट देखने को मिली है।

26 जून को एक लाख मामलों की वृद्धि दर 3.6 प्रतिशत थी।ठीक इसी तरह इस अवधि के दौरान मृत्यु दर की वृद्धि दर 2.9 प्रतिशत से घटकर 2.6 प्रतिशत रह गई।दो दिनों के अंतराल के बाद नए मामलों की संख्या 19,000 से ऊपर दर्ज किए गए। बुधवार को 19,684 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई जिसके बाद देश में कुल संक्रमितों की संख्या 605,068 पर पहुंच गई।

हालांकि बुधवार को कोरोना की वजह से मरने वाले लोगों की संख्या 434 रही जो इससे एक दिन पहले 510 थी। भारत में अब तक वायरस के कारण 17,837 लोगों की मौत हुई है। भारत का सकारात्मक पहलू यह है कि यहां 359,671 लोग वायरस से लड़ाई जीतकर ठीक हो चुके हैं। महाराष्ट्र में लगातार दूसरे दिन पांच हजार से ज्यादा मामले सामने आए।

महाराष्ट्र में बुधवार को 5,537 लोगों की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 180,298 हो गई है। वहीं राज्य में मृतकों की संख्या 8,053 पर पहुंच गई है। देश की राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां बुधवार को मामलों में मामूली वृद्धि देखने को मिली। यहां बुधवार को कोरोना के 2,442 मरीज सामने आए जबकि मंगलवार को यह संख्या 2,199 थी। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 89,802 हो गई है। वहीं मृतकों की संख्या 2,803 हो गई है।

तमिलनाडु में बुधवार को कोरोना के 3,882 नए मामले सामने आए और 63 लोगों की मौत हो गई। राज्य में मृतकों की कुल संख्या 1,264 हो गई है। जबकि राज्य के हॉटस्पॉट शहर चेन्नई में 2,182 मामले सामने आए। महामारी विज्ञानियों का कहना है कि महामारी अन्य जिलों में तेजी से बढ़ रही है। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 94,049 है जबकि 39,856 का इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.