रायपुर – देश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या ने एक बार फिर से लोगों की चिंता बढ़ा दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी रविवार (31 जुलाई) के आंकड़ों के अनुसार देश में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1,43,676 हो गई है जो कि कल की तुलना में 292 अधिक है। वहीं बीते 24 घंटों में कोरोना के 19,673 नए मामले सामने आए हैं और 19,336 लोग स्वस्थ भी हुए। इस दौरान 39 मरीजों की जान भी चली गई। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक कुल 5,26, 357 लोगों की मौत हुई है।

दिल्ली में बीते 24 घंटों में कोरोना के 1333 नए मामले सामने आए

दिल्ली में बीते 24 घंटों में कोरोना के 1,333 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इस दौरान तीन मरीजों की मौत हो गई। संक्रमण दर बढ़कर 8.39 फीसदी हो गई है। हालांकि, इस दौरान 944 मरीज स्वस्थ भी हुए। दिल्ली में फिलहाल कोरोना के कुल 4,230 सक्रिय मरीज हैं और कंटेनमेंट जोन की संख्या 170 है। विशेषज्ञों के अनुसार ओमिक्रॉन के नए-नए सब वैरिएंट्स की वजह से दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

मुंबई का हाल

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना महामारी के 286 नए मामले सामने आए हैं वहीं एक व्यक्ति की मौत हो गई। महानगर में फिलहाल सक्रिय मरीजों की संख्या 817 है। बीएमसी के अनुसार बीते 24 घंटों में 265 लोगों ने कोरोना को मात दी है। महामारी की शुरुआत से अब तक कुल 11 लाख तीन हजार 25 लोग ठीक हो चुके हैं।

छत्‍तीसगढ़ में 24 घंटे में मिले 658 नए केस

छत्‍तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार बढ़ते जा रही है। शनिवार को राज्य में 658 कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं रायपुर में 162 मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 10 हज़ार से अधिक जांच में पाजिटिविटी दर 6.44 प्रतिशत रही। राज्य में 3440 कोरोना के मरीजों का इलाज चल रहा है।

कोरोना नियंत्रण अभियान राज्य नोडल अधिकारी डॉ. सुभाष मिश्रा बताया कि एक बार फिर से कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। लापरवाही हुई तो इसे तेज होने में समय नहीं लगता है। इसलिए कोरोना जांच पर विशेष जोर दिया जा रहा है। रेलवे स्टेशन, अंतरराज्यीय बस अड्डा एयरपोर्ट के साथ ही अस्पतालों में भर्ती मरीजों व अन्य की भी कोरोना जांच की जा रही है। बता दें पिछले माह जून में 30 दिनों में 1729 संक्रमित मिले थे। वहीं जुलाई माह में 18 दिनों में ही 4980 संक्रमित मिले हैं। संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग भी जिलाें को अलर्ट कर दिया है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार तीसरी लहर के बीच जनवरी माह में इस वर्ष सर्वाधिक 1.17 लाख से अधिक केस आए थे। इन 30 दिनों में कोरोना की वजह से 256 लोगों की मौत भी हुई थी। फरवरी में 25 हजार केस आए और 172 लोगों की मौत हुई। इसके बाद कोरोना के मामले बेहद कम हो गए थे। मार्च में 1240 केस मिलने के जून तक ना के बराबर ही केस थे। लेकिन जून से संक्रमण के मामले फिर से बढ़ने शुरू हो गए हैं। जो जुलाई माह में तेजी से बढ़ते जा रही है।

हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.