बिलासपुर – बिलासपुर में एक बार फिर कोरोना विस्फोट हुआ है। 24 घंटे के भीतर 17 कोरोना संक्रमित मिले हैं। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल दूसरी बार कोरोना पाजिटिव हो गए हैं। वहीं जिले में तैनात एडिशनल एसपी पति-पत्नी भी चपेट में आ गए हैं। बढ़ते मामलों को देखकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। एक बार फिर कोरोना महामारी को लेकर दहशत फैल गई है। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को फैलने से रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी ताकत लगा रहा है। इस बीच कोरोना वायरस का पुराना डेल्टा वैरिएंट फिर से सक्रिय हो गया है। इसका असर बुधवार को देखने को मिला।

तीन महीने बाद संक्रमितों की संख्या दहाई अंक तक पहुंच गई। शाम को मरीजों की सूची मिलते ही स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों भी सकते में आ गए। सभी मरीज शहर के रहने वाले हैं। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल दूसरी बार कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें निगरानी में ले लिया है। हालांकि अभी उनकी स्थिति सामान्य है। ऐसे में उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है। इसी तरह एडिशनल एसपी उमेश कश्यप भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। उनकी पत्नी एडिशनल एसपी दीपमाला कश्यप भी कोरोना से संक्रमित हो चुकी है। साफ है कि अब स्थिति बिगड़ने लगी है। यदि अब भी सावधानी नहीं बरती गई तो जल्द ही तीसरी लहर तांडव मचा सकती है। बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोरोना का डर लोगों में खत्म हो गया है। कोरोना गाइडलाइन को नजरअंदाज करने के कारण मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

इस तरह बढ़ रहे मामले

  • 23 दिसंबर – 4
  • 24 दिसंबर – 4
  • 25 दिसंबर – 6
  • 26 दिसंबर – 3
  • 27 दिसंबर – 8
  • 28 दिसंबर – 9
  • 29 दिसंबर – 17

शहर के इन क्षेत्रों में मिले हैं मरीज

न्यू सरकंडा, रेलवे कालोनी, राजेंद्र नगर, पुराना मीना बाजार मुंगेली नाका चौक, जबड़ापारा, कंपनी गार्डन के पास, जेपी विहार मंगला, मस्जिद गली मसानगंज, मंदिर चौक सृष्टि हास्पिटल, चंदेला नगर, अपोलो हास्पिटल, देवनंदन नगर, पुष्पांजलि सदन अमेरी रोड।

सभी संक्रमित को लग चुका था टीका

शहर में बुधवार को जितने भी मरीज मिले हैं, सभी को टीकाकरण हो गया है। इसमें से 15 को दोनों डोज लग चुकी है। टीकाकरण सुरक्षा के बाद भी लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में कोरोना के फैलने का डर और भी बढ़ गया है।

ओमिक्रोन फैला तो संक्रमण की गति हो जाएगी और तेज

अभी जिले में डेल्टा वैरिएंट अपना असर दिखा रहा है। यह कोरोना का वह ही वैरिएंट है, जिसने कोरोना की दूसरी लहर में जमकर तबाही मचाई थी। लेकिन इसके बाद भी फिर से वही गलती दोहराई जा रही है। यह खतरनाक साबित हो सकती है।

पिछले एक सप्ताह से लगातार संक्रमण बढ़ रहा है। बुधवार को एक साथ 17 मरीज मिले हैं। उनके उपचार की व्यवस्था की गई है। अब गाइडलाइन का पालन करना जरूरी हो गया है। कोरोना नियंत्रण को तेज कर दिया गया है।

– डॉ. प्रमोद महाजन, सीएमएचओ

Leave a Reply

Your email address will not be published.