रायपुर – शहर से निकलने वाले ई-वेस्ट के निष्पादन की दिशा में अब नगर निगम ने काम शुरू कर दिया है। इसके लिए एक निजी एजेंसी को रखा गया है, जो कि सिर्फ एक काल करने पर आपके घर से आकर कचरा लेकर जाएगी और इसका वैज्ञानिक पद्धति से निष्पादन करेगी। इसके एवज में आपको प्रति किलो के हिसाब से भुगतान भी एजेंसी द्वारा किया जाएगा।

जिसके लिए न्यूनतम 10 रुपये से लेकर अधिकतम 1050 रुपये का भुगतान किया जाएगा, जबकि प्रोसेसिंग की सारी जिम्मेदारी एजेंसी की ही रहेगी। इसके लिए एजेंसी द्वारा प्लांट भी बनाकर तैयार कर लिया गया है, जबकि इसके तहत निगम द्वारा लोगों में जागरूकता लाने के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार करवाने की बात कही जा रही है।

चूंकि एजेंसी के पास पर्यावरण संरक्षण मंडल से पहले ही अनुमति है, इसलिए इनके द्वारा वेस्ट कलेक्ट कर इनका निष्पादन शुरू कर दिया गया है और निगम से एनओसी लेने की जरूरत नहीं है। वहीं इसके अंदर टीवी, फ्रिज, कूलर से लेकर कंप्यूटर, लैपटाप सहित अन्य सभी प्रकार के इलेक्ट्रानिक वेस्ट शामिल हैं।

साथ ही इसमें चालू हालत से लेकर बंद पड़े हुए वेस्ट भी शामिल हैं, जिसमें सर्वाधिक कीमत 1050 रुपये प्रति किलो के हिसाब से वीडियो कैमरे प्रति नग के हिसाब से है, जबकि न्यूनतम कीमत 10 रुपये प्रति किलो के हिसाब से मोबाइल फोन एसेसरीज की है।

टोल फ्री नंबर 1800 891 7656 पर कर सकते हैं काल

इलेक्ट्रानिक वेस्ट कलेक्शन के लिए एजेंसी द्वारा टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है, जिसमें काल कर आपन एजेंसी को अपने घर बुला सकते हैं और वेस्ट इन्हें दे सकते हैं, जिसके लिए 1800 891 7656 पर काल कर सकते हैं। इसके लिए किसी भी प्रकार को कोई अतिरिक्त चार्ज देने की आवश्यकता नहीं है।

शहर से रोज निकलता है 5 से 10 टन ई वेस्ट

शहर की मोबाइल दुकानों से लेकर कंप्यूटर, इलेक्ट्रानिक दुकानों से 5 से 10 टन ई-वेस्ट प्रतिदिन निकलता है, जिसके निष्पादन के लिए प्रापर इंतजाम नहीं है। वहीं कई बार इस तरह के वेस्ट संकरी स्थित प्रोसेसिंग प्लांट में भी देखने को मिलते हैं। ऐसे में एजेंसी द्वारा इन्हें लेकर वैज्ञानिक तरीके से निष्पादन करने की व्वयस्था बनाई गई है।

कबाड़ियों से न रेट मिलता है और न ही निष्पादन

अमूमन देखा जाता है कि लोग घर या फिर दुकानों से निकलने वाले ई-वेस्ट कबाड़ियों को बेचते हैं। जिसके लिए न तो सही रेट ही लोगों को मिलता है और न ही इसका सटीक तरीके से निष्पादन ही किया जाता है। इसे देखते हुए एजेंसी के ऑफर पर निगम ने उन्हें इसकी अनुमति दी है, जिसके तहत वे प्रापर वैज्ञानिक तरीके से कचरे का निष्पादन कर सकें।

इस तरह के वेस्ट शामिल

इसके तहत फ्रिज, एसी, वाशिंग मशीन, लैपटाप, प्रिंटर, टेबलेट, मोबाइल एसेसरीज, टीवी, एलईडी, सीपीयू कैबिनेट, पेन ड्राइव, यूपीएस, इन्वर्टर, की बोर्ड, सीडी, डीवीडी, वीसीआर, वीडियो कैमरे, वाटर कूलर, इलेक्ट्रिक स्विच, हार्ड डिस्क सहित 70 प्रकार के इलेक्ट्रानिक डिवाइसेस शामिल हैं।

लोग टोल फ्री नंबर पर काल कर दे सकते हैं वेस्ट

एजेंसी ने ई वेस्ट डिस्पोजल के लिए एप्रोच किया था। चूंकि उनके पास पर्यावरण विभाग से अनुमति है, इसलिए उन्हें ई वेस्ट के डिस्पोजल के लिए एनओसी देने की जरूरत नहीं है। लोग टोल फ्री नंबर पर काल कर वेस्ट उन्हें दे सकते हैं।

-मयंक चतुर्वेदी, आयुक्त, नगर निगम, रायपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.