वाट्सऐप को टक्कर देने आया, भारत का ‘संदेश’ ऐप

भारत में स्वदेशी को बढावा दे रही केंद्र सरकार ने स्वदेशी इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप ‘संदेश’ लांच कर दिया है। हालांकि अभी यह सरकारी कर्मचारियों के लिए उपयोग में होगा। बाद में आम जनता के लिए उपलब्ध होगा।

ऐप का परीक्षण चल रहा है, पिछले साल 2020 में केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने ये घोषणा की थी कि जल्द ही हम वाट्सएप की टक्कर का ऐप लाएंगे। जो अब दिख भी रहा है। आधिकारिक वेबसाइट GIMS.gov.in पर जाकर इस ऐप के बारे में जानकारी ले सकते हैं।

जब आप Gims.gov.in पर जाएंगे तो संदेश ऐप के बारे में जानकारी मिलेगी, कैसे साइन इन होगा, प्राइवेसी पॉलिसी और ओटीपी से संबधित जानकारी आपको मिल जाएगी।  इस सरकारी चैटिंग ऐप को गवर्नमेंट इंस्टेंट मैसेजिंग सिस्टम कहा जाएगा। सरकार जल्द ही आम नागरिकों को इस ऐप को उपलब्ध कराने जा रही है।

अभी फिलहाल कुछ अधिकारी ही यूज कर सकते हैं, वहीं रिपोट्स के मुताबिक संदेश ऐप एंड्रॉयड और आईफोन दोनों ही प्लैटफॉर्म्स के लिए लाया जाएगा। दूसरे ऐप की तरह ही होगा। लेकिन भारत में करोड़ों लोग वाट्सऐप उपयोग करते हैं। वो कैसे इस पर आएंगे ये देखना दिलचस्प होगा।

हाल ही में वाट्सऐप प्राइवेसी को लेकर बैकफुट पर है। दुनियाभर में कंपनी को विरोध झेलना पड़ा है। इसीलिए भारत सरकार के लिए अच्छा है कि प्राइवेसी को मजबूत कर लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर सके।

वहीं संदेश ऐप के लोगो की बात करें तो इसमें एक अशोक चक्र की आकृति बनी है। इसमें तीन रंग हैं। जो रंग तिरंगे में वहीं संदेश में देखने को मिल रहे हैं। इस ऐप को नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर मैनेज करेगा जो इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नॉलजी मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.