इस सप्ताह भारतीय नौसेना ने अमेरिकी नौसेना के साथ अंडमान निकोबार द्वीप समूह तट के पास सैन्य अभ्यास किया था। इस संयुक्त युद्धाभ्यास में अमेरिकी नौसेना ने दुनिया के सबसे बड़े पोत यूएसएस निमित्ज का इस्तेमाल किया था। भारत के बाद अब अमेरिका ने साउथ चाइना सी (दक्षिण चीन सागर) के विवादित हिस्से से करीब 4000 किमी दूर फिलीपींस सागर में जापान और ऑस्ट्रेलिया की नौसेनाओं के साथ युद्धाभ्यास शुरू किया है। 

चीन पर दबाव बनाने की कोशिश में है अमेरिका

इस अभ्यास को लेकर जारी किए गए आधिकारिक बयान में चीन का नाम नहीं लिया गया है। बता दें कि दक्षिण चीन सागर के अधिकतर हिस्से पर चीन अपना दावा करता है। जानकारी के अनुसार तीन देशों के इस अभ्यास में 12 फाइटर जेट और नौ जंगी जहाजों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस अभ्यास में अमेरिका ने यूएसएस रोनाल्ड रीगन को भी शामिल किया है। अमेरिका चीन पर लगातार दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है।  

इन अभ्यासों को हिंद -प्रशांत क्षेत्र में स्वतंत्रता सुनिश्चित करने का प्रयास कहा जा रहा है। इस सप्ताह हुए दो अभ्यासों में भाग लेने वाले चार देश अमेरिका, भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया इस साल नवंबर में हिंद महासागर में होने वाले विस्तारित मालाबार नौसेना अभ्यास में भी शामिल हो सकते हैं, जिसका नेतृत्व भारत करेगा।  ऑस्ट्रेलिया को इस अभ्यास में शामिल होने के लिए औपचारिक न्योता जल्द ही भेज दिया जाएगा। 
चीन से गतिरोध के बीच नौसेना ने बढ़ाई है चौकसी

इन सैन्य अभ्यासों की अहमियत इसलिए बढ़ गई है क्योंकि यह ऐसे वक्त हुआ है जब पूर्वी लद्दाख और दक्षिण चीन सागर में चीन की सेना लगातार आक्रामक रुख अपनाए हुए है। भारतीय नौसेना ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ लगी सीमा पर गतिरोध के मद्देनजर हिंद महासागर क्षेत्र में अपने निगरानी अभियान तथा परिचालन तैनाती को बढ़ा दिया है। भारतीय नौसेना को हिंद महासागर के उन क्षेत्रों में चौकसी बढ़ाने को कहा गया है जहां पर चीनी नौसेना से अक्सर उसका सामना होता है।

क्षेत्रीय सुरक्षा परिदृश्य के मद्देनजर भारतीय नौसेना, अमेरिकी नौसेना और जापान समुद्री सुरक्षा बल जैसे मित्र नौसैन्य बलों के साथ अपने परिचालन सहयोग को भी बढ़ाया है। संसाधन संपन्न क्षेत्र में चीन की नौसेना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान और फ्रांस की नौसेनाओं ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अपने आपसी सहयोग को गहरा किया है। इससे पहले भारत ने पिछले महीने जापान की नौसेना के साथ भी इसी तरह का अभ्यास किया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

स्वामित्व अधिकारी एवं संचालक-मनीष कुमार साहू,मोबाइल नंबर- 9111780001 चीफ एडिटर- परमजीत सिंह नेताम ,मोबाइल नंबर- 7415873787 पता- चोपड़ा कॉलोनी-रायपुर (छत्तीसगढ़) 492001 ईमेल -wmynews36@gmail.com