कांकेर/MyNews36 प्रतिनिधि- मुख्य सचिव आर पी मंडल ने आज जिला कार्यालय कांकेर के सभाकक्ष में बस्तर संभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर आश्रम-छात्रावासों को मॉडल बनाने, वन अधिकार मान्यता पत्रों का वितरण और सुपोषण अभियान की समीक्षा करते हुए बस्तर संभाग को कुपोषण मुक्त करने के निर्देश दिए है। गौरतलब है कि मुख्य सचिव द्वारा बस्तर संभाग के सभी जिलों में दस-दस आश्रम-छात्रावासों को मॉडल बनाने, संभाग में 15 हजार व्यक्तिगत वन अधिकार पट्टों का वितरण और 20 हजार सामुदायिक वन अधिकार हक तथा बस्तर संभाग के सभी 4077 गांवों में सामुदायिक वन संसाधन हक प्रदान करने के लिए निर्देशित किया गया है।

मुख्य सचिव मण्डल ने समीक्षा के दौरान बस्तर संभाग को कुपोषण मुक्त करने के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इसमें पंचायत प्रतिनिधियों की भी सहभागीता सुनिश्चित किया जाये। बच्चों को पौष्टिक भोजन का वितरण के साथ ही कृमीनाशक गोली का वितरण करने तथा महिलाओं में ऐनिमिया से मुक्ति के लिए मुनगा के सेवन को प्रोत्साहित करने के निर्देश भी उन्होंने दिये।

उन्होंने संभाग के सभी आश्रम-छात्रावासों में बढ़िया टायलेट बनाने तथा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत महिला स्व-सहायता समूहों को ग्राम पंचायतों में मुर्गी पालन के लिए शेड बनाकर उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये। वनाधिकार मान्यता पत्र की समीक्षा करते हुए उन्होंने बस्तर संभाग के सभी जिलों में व्यक्तिगत वन अधिकार पट्टा सहित सामुदायिक वन अधिकार हक और संभाग के सभी गांवों में सामुदायिक वन संसाधन हक प्रदान करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। राष्ट्रीय राजमार्ग एवं राज्य मार्ग के किनारे से बड़े पैमाने पर फलदार एवं छायादार वृक्षों का पौधरोपण कराने और उसकी सुरक्षा के लिए ट्री-गार्ड लगाने के लिए भी उनके द्वारा अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

इस अवसर पर सचिव आदिम जाति कल्याण विभाग डी.डी.सिंह, सचिव महिला एवं बाल विकास आर. प्रसन्ना, कमिश्नर बस्तर संभाग अमृत खलखो, मुख्य वन संरक्षक कांकेर जे.आर. नायक, मुख्य वन संरक्षक जगदलपुर मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर कांकेर के.एल. चौहान, कलेक्टर कोण्डागांव पुष्पेंन्द्र मीणा, कलेक्टर नारायणपुर अभिजीत सिंह, कलेक्टर दंतेवाड़ा दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक कांकेर एम.आर. अहिरे, जिला पंचायत कांकेर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे सहित सीईओ नारायणपुर एवं सीईओ दंतेवाड़ा और विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

MyNews36 संवाददाता एस डी ठाकुर की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.