मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य में कोरोना को हराने में मदद के लिए आगे आ रहे संगठनों की सराहना की

राज्य में वर्तमान में ऑक्सीजन बेड की पर्याप्त उपलब्धता: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर – मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अपील पर राज्य में कोरोना को हराने में मदद के लिए विभिन्न संगठन और सामाजिक संस्थाएं बढ़-चढ़ कर भागीदारी निभाने आगे आने लगे हैं। इस कड़ी में आज मुख्यमंत्री बघेल को राजधानी रायपुर के विभिन्न औद्योगिक संस्थानों तथा क्रेडाई, बैंक आदि प्रतिष्ठानों द्वारा एक करोड़ 39 लाख 75 हजार रूपए की राशि के राहत सामग्री प्रदत्त किए गए।मुख्यमंत्री बघेल ने राज्य में कोरोना नियंत्रण हेतु शासन के साथ विभिन्न संगठनों के सहयोग की सराहना की और उनसे आज अपने निवास कार्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए अपना आभार जताया।

इस अवसर पर वीडियों कांफ्रेंसिंग में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड कुलदीप जुनेजा, महापौर नगर पालिक निगम रायपुर एजाज ढेबर तथा जिला कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन और विभिन्न औद्योगिक प्रतिष्ठानों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने इस दौरान कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा हर आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं। इसके तहत मरीजों की तत्परता से इलाज सुविधा के लिए अस्पतालों में बेडों की संख्या में निरंतर वृद्धि की जा रही है।

इसके साथ ही कोविड सेंटर और क्वारेंटीन सेंटर भी तेजी से खोले जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में शासकीय हो अथवा निजी अस्पताल कहीं भी ऑक्सीजन बेड की कमी नहीं है।इनकी अभी पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो गई है। इसी तरह एक-दो दिवस के भीतर राज्य में रेमडेसीवीर इंजेक्शन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कर ली जाएगी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि राज्य में रेमडेसीवीर इंजेक्शन की आपूर्ति निरंतर जारी है। इसके लिए राज्य सरकार ने अखिल भारतीय सेवाओं के दो वरिष्ठ अधिकारियों प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य सड़क विकास निगम और कृषि विभाग के संयुक्त सचिव भोस्कर विलास संदीपन को दवाइयों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मुंबई और छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध संचालक अरूण प्रसाद को हैदराबाद में तैनात किया हैं। इससे निरंतर आपूर्ति में मदद मिल रही हैं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल से गोयल टीएमटी से संदीप गोयल, क्रेडाई से आनंद सिंघानिया, उरला स्पंज आयरन एसोसिएशन से मनोज अग्रवाल, हीरा ग्रुप से विनोद पिलई, बजरंग ग्रुप से बजरंग अग्रवाल आदि ने भी वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए राज्य में कोरोना नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।इन संस्थानों के माध्यम से अभी 69 लाख 75 हजार रूपए की राशि के 155 ऑक्सीजन कोनसेंटेटर तथा 70 लाख रूपए की राशि के 350 ऑक्सीजन सिलेंडर की राहत सामग्री प्राप्त हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.