Chief Minister Bhupesh Baghel
Chief Minister Bhupesh Baghel

रायपुर- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री तथा छत्तीसगढ़ वित्त विकास निगम के पूर्व अध्यक्ष बलिहार सिंह के निधन पर शोक जताया है।मुख्यमंत्री ने पूर्व मंत्री सिंह के शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।ज्ञातव्य है कि बलिहार सिंह अविभाजित मध्यप्रदेश के दौरान चांपा के विधायक और मध्यप्रदेश सरकार में खाद्य एवं जेल मंत्री रहे हैं।

बता दे कि-सिंह कई दिनों से बीमार थे और बिलासपुर के अपोलो हास्पिटल में इलाज के भर्ती थे।इलाज के दौरान उनका आज 6 जून को 94 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया।

अन्य खबर

मुख्यमंत्री से पंडरिया विधायक के नेतृत्व में आए धरमपुरा के ग्रामीणों ने की सौजन्य मुलाकात

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में पंडरिया विधायक ममता चन्द्राकर के नेतृत्व में आए धरमपुरा गांव के ग्रामीणों ने सौजन्य मुलाकात की।इस अवसर पर विधायक श्रीमती चन्द्राकर एवं उनके साथ आए ग्रामीणों एवं किसानों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देश का लोकप्रिय मुख्यमंत्री चुने जाने पर बधाई देते हुए राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। इस अवसर पर प्रतिनिधि मंडल में शामिल छत्तीसगढ़ी लोक कवि चन्द्रिका प्रसाद चन्द्रवंशी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ सरकार की जनहितैषी योजनाओं पर केन्द्रित स्वरचित कविता की पंक्तियां का पाठ किया और उन्हें इसकी प्रति भेंट की।इस अवसर पर जयंसिंह ठाकुर, प्रदीप शर्मा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री से सर्वआदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की : लोकप्रिय मुख्यमंत्री चुने जाने पर बधाई दी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष बी.पी.एस. नेताम के नेतृत्व में आए प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री चुने जाने पर बधाई और शुभकामनाएं दी।

सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष नेताम ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सरल-सहज व्यवहार एवं उनकी कार्यशैली की सराहना करते हुए कहा कि आपके नेतृत्व में छत्तीसगढ़ राज्य तेजी से तरक्की कर रहा है।समाज के सभी वर्गों की भलाई के लिए आपकी सरकार द्वारा संचालित योजनाओं ने आपको जनता के बीच लोकप्रिय बना दिया है।किसानों के हितों की रक्षा के लिए शुरू की गई राजीव गांधी किसान न्याय योजना की भी उन्होंने सराहना की और कहा कि इससे छत्तीसगढ़ राज्य में खेती-किसानी का एक नया दौर शुरू होगा।

प्रतिनिधि मंडल ने इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के सावंरा समाज के लोगों के आरक्षण एवं अन्य सामाजिक मुद्दों पर मुख्यमंत्री से चर्चा की। प्रतिनिधि मंडल ने आगामी 24 जून को रानी दुर्गावती बलिदान दिवस के कार्यक्रम के संबंध में जानकारी दी और कार्यक्रम में शामिल होने का न्यौता दिया।इस अवसर पर आदिवासी समाज के वरिष्ठ प्रतिनिधि जी.एस. धनंजय, जे. मिंज, एम.आर. ठाकुर, एम.पी. नैरोजी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.