मुख्यमंत्री बघेल ने धमतरी जिले की मितानिनों से बातचीत, कहा- आपातकाल में सकारात्मक भूमिका निभा रहीं

प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर एवं दुर्ग संभाग के अंतर्गत आने वाले जिलों की मितानिनों व स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर कोरोना काल में उनके द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की तथा ग्राम स्तर पर उनके द्वारा निभाई जा रही सकारात्मक भूमिका के प्रति आभार प्रकट किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने धमतरी विकासखण्ड की ग्राम पंचायत भटगांव सहित नगर निगम के गोकुलपुर वार्ड एवं रामसागरपारा में कार्यरत मितानिनों से वार्तालाप कर उनके द्वारा जमीनी स्तर पर किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली। वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान कलेक्टर श्री जयप्रकाश मौर्य तथा जिला पंचायत के सी.ई.ओ.मयंक चतुर्वेदी उपस्थित रहे।

प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा आज दोपहर को ली गई वीडियो वार्ता में रायपुर एवं दुर्ग संभाग की मितानिन एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ता शामिल हुए, जिसमें उन्होंने बारी-बारी से चर्चा की। वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में हिस्सा लेने आई मितानिनों में से ग्राम भटगांव की टामेश्वरी साहू एवं ओमेश्वरी साहू, स्थानीय गोकुलपुर वार्ड की मितानिन मुक्तिरानी साहू तथा रामसागरपारा वार्ड की प्रमिला बाघमारे से मुख्यमंत्री ने बातचीत की। मुख्यमंत्री के पूछे जाने पर भटगांव की मितानिन टामेश्वरी एवं ओमेश्वरी ने उनके क्षेत्र में 46 लोग संक्रमित हैं जिनमें से 06 कोविड केयर सेंटर में तथा शेष 40 मरीज आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार उनके द्वारा घर-घर जाकर लक्षण आधारित मरीजों का सर्वे कर सूची तैयार कर बीएमओ को जानकारी दी जाती है।

इसके अलावा ग्रामीणों को मास्क लगाने, बार-बार हाथ धोने तथा दो गज की दूरी बनाए रखने की लगातार समझाइश दी जाती है। इसी तरह स्थानीय गोकुलपुर वार्ड की मितानिन मुक्तिरानी और रामसागर पारा वार्ड की श्रीमती प्रमिला ने मुख्यमंत्री को वी.सी. में बताया कि लक्षण वाले मरीजों की जांच रिपोर्ट आने से पहले ही उन्हें अपनी मितानिन पेटी में रखी दवाइयां आइवरमेक्टिन, डोक्सीसाइक्लिन, पैरासिटामाॅल, विटामिन सी और जिंक की गोलियां नियमानुसार खाने के लिए दी जाती हैं। साथ ही परिवार के बाकी सदस्यों को मरीज से दूरी बनाकर गरारा करने, भाप लेने व काढ़ा पीने की भी सलाह उनके द्वारा दी जाती है। इस पर मुख्यमंत्री ने जिले की मितानिनों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की।

इस दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि वैश्विक आपदा के इस दौर में स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार मितानिनें संक्रमण की परवाह किए बिना अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रही हैं। जहां अन्य प्रदेशों में ऑक्सीजन , वेंटिलेटर और इंजेक्शन के लिए आपाधापी है वहीं प्रदेश में इसकी शीघ्रता से उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि स्वाथ्यगत आपदाकाल में जिस तरह डाॅक्टर भगवान का भूमिका निभाते हैं, ठीक वैसे ही मितानिनें देवी से कम नहीं हैं और उनके समन्वित प्रयास से पिछले साल की भांति इस साल भी सब मिलकर उक्त महामारी के खिलाफ जंग में जीत हासिल करेंगे। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की मितानिनों के द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर संतोष जाहिर करते हुए स्वास्थ्य एवं आयुष विभाग की गाइडलाइन के अनुरूप कार्य करने तथा लोगों को समझाइश देकर उनकी जान बचाने में हमेशा तत्पर रहने की बात कही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.