रायपुर – प्रदेश भर में बीते तीन दिनों में हुई वर्षा के चलते वर्षा की स्थिति सुधर गई है। हफ्ते भर से सामान्य से पाचं प्रतिशत तक कम वाले प्रदेश में अब सामान्य से सात प्रतिशत ज्यादा वर्षा हो गई है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार एक जून से लेकर 10 अगस्त तक 71 दिनों में प्रदेश में 746.9 मिमी वर्षा हुई है,जो सामान्य से सात प्रतिशत ज्यादा है।

इसी प्रकार सामान्य से 25 प्रतिशत कम वर्षा रहने वाले रायपुर जिले में वर्षा की स्थिति सामान्य हो गई है। रायपुर में अब तक 563.3 मिमी वर्षा हुई है,जो सामान्य से 11 प्रतिशत कम है। प्रदेश भर में सर्वाधिक वर्षा बीजापुर में 1902.8 मिमी हुई है।

बुधवार सुबह से ही रायपुर सहित प्रदेश भर में बादल छाए रहे और हल्की वर्षा भी हुई। लगातार हुई वर्षा के वजह से मौसम में भी ठंडकता आ गई है और अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आ गई है। रायपुर का अधिकतम तापमान 25.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया,जो सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम है।

प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान कृषि विज्ञान केंद्र कोरिया में 30.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक निम्न दाब का क्षेत्र पूर्वी मध्य प्रदेश और उसके आसपास है। साथ ही मानसून द्रोणिका के प्रभाव से गुरुवार को भी प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है। प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा के भी आसार है।

खारुन में जलस्तर बढ़ा

तीन दिनों तक हुई वर्षा के चलते रायपुर के गली-मुहल्लों व मुख्य मार्गों में जहां पानी भर गया। वहीं खारुन का जलस्तर भी बढ़ गया। खारुन का पानी अब पुल को छुने लगा है। इसके साथ ही खारुन से लगे नाले भी उफान पर हो गए है।

इन क्षेत्रों में हुई वर्षा

महासमुंद 19 सेमी, माना-रायपुर 17 सेमी, राजनांदगांव-आरंग 15 सेमी, बलौदाबाजर 11 सेमी, शिवरीनारायण-सिमगा 13 सेमी, बिलाह-पलारी-लभांडी-गुंडरदेही 11 सेमी वर्षा हुई। इन क्षेत्रों के साथ ही प्रदेश भर में हल्की से मध्यम वर्षा हुई। मौसम विभाग ने गुरुवार को भी प्रदेश में भारी वर्षाकी संभावना जताई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.