high court Bilaspur
high court Bilaspur

बिलासपुर- छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में वकील या संबंधित व्यक्ति अपने दफ्तर,घर या कहीं से भी हो ऑनलाइन याचिका दाखिल कर सकेंगे। साथ ही लंबित मामलों में जवाब दावा भी ई फाइलिंग के जरिए ही होगी। इसके लिए पक्षकार से लेकर वकील व अन्य लोगों को अदालत जाने की जरूरत नहीं रहेगी। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट की फुलकोर्ट मीटिंग में यह निर्देश दिए गए हैं। हाई कोर्ट की आइटी टीम ने एनआइसी की मदद से अपना सॉफ्टवेयर तैयार किया है जो मुकदमा,जवाब दावा व अर्जी दाखिल करने की प्रक्रिया को आसान बनाती है।इसका उद्देश्यय कागज की बचत करना भी है।अब अदालतों में फाइलों का अंबार भी नजर नहीं आएगा।यही नहीं 15 जून से वर्चुअल सुनवाई भी शुरू हो गई है। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए छह कोर्ट में सुनवाई हो रही है।

पोर्टल में ऑनलाइन स्टोर होगी फ़ाइल

फाइल अपलोड होते ही छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट के पोर्टल में चली जाएगी।तैयार सॉफ्टवेयर ऑनलाइन में इसका निरीक्षण करेगा और किसी तरह की कमी होने पर ईमेल या एसएमएस के जरिए संबंधित वकीलों को सूचना दी जाएगी।

पहले कराना होगा पंजीयन

मुकदमा दाखिल करने के लिए सबसे पहले वकीलों को कोर्ट के ई-फाइलिंग पोर्टल में पंजीकरण कराना होगा।इसके बाद बताए गए प्रक्रिया के तहत याचिका,हलफनामा या जो भी दस्तावेज दाखिल कर रहे हैं उसकी पीडीएफ फाइल अपलोड करनी होगी।फाइल अपलोड होते ही ई मेल या फिर एसएमएस के जरिए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में जानकारी दी जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.