रायपुर – छत्तीसगढ़ में लक्षित 60 फीसद लोगों को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। वहीं 15 से 18 वर्ष के किशोरों और युवाओं का टीकाकरण तीन जनवरी से शुरू होना है। इस संबंध में 28 दिसंबर, मंगलवार को केंद्र सरकार सभी प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्री समेत आला अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग लेगी। इसमें टीकाकरण को लेकर दिशा-निर्देश मिलने की बात कही जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि 16 जनवरी 2021 से शुरू हुए टीकाकरण में अब तक राज्य के 60 फीसद पात्र लोगों को दोनों टीके लगाए जा चुके हैं। इनकी संख्या 1.18 करोड़ से अधिक हैं। वहीं 95 फीसद यानी 1.87 करोड़ से अधिक को पहला टीका लगा है। दोनों टीकाकरण को मिलाकर अब तक तीन करोड़ पांच लाख 43 हजार से अधिक टीके लग चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में शून्य से 18 आयु के करीब एक करोड़ बच्चे और किशोर शामिल हैं। इसमें से 15 से 18 आयु के 25 से 30 लाख किशोर होने का अनुमान है। इनका टीकाकरण तीन जनवरी से शुरू होना है। जो केंद्रीय दिशा निर्देश के आधार ही योजना के अनुसार टीकाकरण अभियान शुरू किया जाएगा।

स्कूलों में टीकाकरण की तैयारी

टीकाकरण अधिकारी के मुताबिक राज्य में पहले ही टीकाकरण बेहतर चल रहा है। अभी सभी स्कूल खुल चुके हैं। ऐसे में घर-घर टीकाकरण अभियान की तरह स्कूलों में जाकर टीकाकरण कराए जाने की तैयारी है। वहीं पहले से संचालित केंद्रों में भी टीकाकरण किया जाएगा। लेकिन वर्तमान में इसपर फैसला केंद्र सरकार को ही लेना है।

60 वर्ष से अधिक को बूस्टर डोज

केंद्र सरकार के के निर्देश के बाद राज्य में स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंट लाइन वर्कर और 60 वर्ष की आयु से अधिक वाले व्यक्तियों को बूस्टर डोज देने का निर्णय लिया गया है। ऐसे में अब राज्य में राज्य में सात लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मी व फ्रंटलाइन वर्कर इस दायरे में आएंगे। 30 लाख से अधिक ऐसे लोगों की संख्या है, जो 60 वर्ष की आयु से अधिक है। सभी को बूस्टर डोज लगाने की प्रक्रिया 10 जनवरी से शुरू होगी।

केंद्र से मिलेगा गाइडलाइन

15 से 18 वर्ष के करीब 30 लाख से किशोरों और युवाओं को कोरोनारोधी टीका लगाया जाएगा। आज केंद्र सरकार के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग है। इसमें दिशा-निर्देश मिलने की संभावना है।

– डॉ. वीआर भगत, राज्य टीकाकरण अधिकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.