रायपुर – छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड द्वारा मुख्यमंत्री विद्युत अधोसंरचना विकास योजना के अंतर्गत राजनांदगांव जिले के ग्रामीण अंचलों में निर्बाध व गुणावत्तापूर्ण बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के उद्देष्य से विद्यमान उपकेंद्रों में स्थापित पावर ट्रांसफार्मरों की क्षमता वृद्धि का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जा रहा है। इसी कड़ी में लिमो में विद्यमान 33/11 केवी उपकेंद्र में 3.15 एमवीए का अतिरिक्त पाॅवर ट्रांसफार्मर को ऊर्जीकृत किया गया। इससे लोगों को लो वोल्टेज की समस्या से छुटकारा मिलेगा।

इस प्रकार गंडई उपसंभाग के अंतर्गत लिमो उपकेंद्र की क्षमता 3.15 एमवीए से बढ़कर 6.30 एमवीए हो गया है। विद्युत कंपनी के उच्चाधिकारियों के प्रयासों से विद्युत विकास के लिए स्वीकृत इस कार्य से लिमो उपकेंद्र के परिधि में आने वाले अनेक गांवों के किसानों तथा उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिलेगा। खैरागढ़ संभाग के कार्यपालन अभियंता छगन शर्मा ने बताया कि लिमो उपकेंद्र में स्थापित 3.15 एमवीए का अतिरिक्त पावर ट्रांसफार्मर के ऊर्जीकरण से ग्राम बिरखा, बसावर, बुढ़ासागर, भुरसाटोला, ढ़ाबा, दुल्लापुर, गायमुख, ईरिमकसा, कटंगी, खौड़ा, कोदवा, लालपुर, लिमों, मुण्डाटोला, नादिया, सर्राकापा, सेतवा, बरबसपुर, बेन्द्री, बिरपुरखूर्द, चिलगुड़ा हरडंडा, कांषीटोला, निवासपुर, पेंडरवानी, संबलपुर एवं सुखरी आदि 27 ग्रामों के लगभग 3450 उपभोक्ताओं को उच्चगुणवत्ता की विद्युत सेवा का लाभ मिलेगा।

इस कार्य को सफलतापूर्वक किये जाने पर राजनांदगांव क्षेत्र के मुख्य अभियंता टीके मेश्राम एवं अधीक्षण अभियंता सलिल कुमार खरे ने कार्यपालन अभियंता छगन शर्मा, एनके गुरूपंचायन, एडी टंडन, सहायक अभियंता अनिल कुमार रामटेके, मुकेश कुमार साहू, नुरेंद्र कुमार साहू, एके द्विवेदी, कनिष्ठ अभियंता नरेश कुमार नेताम और उनकी टीम को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.