Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

CG Post Office:पोस्ट ऑफिस के ये 5 योजनाए ठंडे बस्ते में,आम जनता को करना पड़ रहा परेशानियों का सामना

CG Post Office

रायपुर- पोस्ट आफिस में पोस्टकार्ड,पार्सल,आधार कार्ड समेत बीमा की राशि जमा करने जाना है तो एक दिन में काम नहीं होगा,बल्कि इसके लिए तीन से चार दिन तक पोस्ट आफिस के चक्कर लगाने होंगे।यहां एक तरफ जहां काउंटर के सामने टंगी लिंक फेल की तख्तियां लोगों का मूड बिगाड़ देती हैं,वहीं डिजिटल इंडिया की असल तस्वीर दिखती है।

डिजिटलाइजेशन प्रक्रिया सिर्फ दिखावा

बैंक की सुविधा देने का दावा कर रहे डाक अधिकारियों की मानें तो घर पहुंच खाते में पैसा जमा करने,खाते की जानकारी मैसेज से देने व ATM कार्ड सभी बैकों के लिए शुरू किया गया है,जबकि मौजूदा स्थिति को देखें तो अभी तक शहर को छोड़कर गांव तक बैंकिंग सुविधा नहीं पहुंच पाई है।इसी तरह से डाकघर का एटीएम दूसरे बैंकों के एटीएम में उपयोग नहीं होगा।अब बीमाधारकों की डिजिटलाइजेशन प्रक्रिया का लाभ कैसे मिल रहा है, इसके बारे में विभाग के अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

Whats App ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

पोस्टकार्ड हमेशा दिक्क्त

आकाशवाणी के श्रोता हों या नौकरी के लिए आवेदन करते समय पोस्टकार्ड की अधिक मांग रहती है,लेकिन डाकघर में पोस्टकार्ड की हमेशा दिक्कत रहती है।इससे लोगों को डाकघर के साथ स्टेशनरी दुकानों के चक्कर लगाने पड़ते हैं।वहीं विभाग अधिकारी का कहना है कि-यह कार्ड भोपाल से छपकर आता है,ऑर्डर कर दिया गया है।हमेशा यही सुनने को आता है।

टूयुब लाइट का वितरण नहीं

कम बिजली खपत वाले LED बल्ब,टूयुब लाइट और पंखा वितरण करने की योजना पिछले एक वर्ष से फाइलों में चल रही थी,योजना की शुरुआत भी हुई,लेकिन टूयूब लाइट वितरण में शामिल नहीं है।ऐसे में ग्राहकों को डाकघर में पहुंचने पर इसकी जानकारी मिलती है।जिससे वह मानसिक तौर से परेशान होते है,लेकिन काउंटर पर इसकी जानकारी को लेकर कोई सूचना नहीं है।

आरक्षित टिकट देने की योजना

यात्रियों को सुविधा देने के लिए पोस्ट आफिस से आरक्षित टिकट देने की योजना राजधानी में फाइलों से बाहर नहीं निकल पाई।शहर के चार पोस्ट आफिसों में पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम शुरू करने की घोषणा लगभग 2015 में हुई थी।शहर के कुछ प्रमुख पोस्ट आफिस जैसे- पं रविशंकर शुक्ल विवि,पंडरी और आश्रम के पोस्ट आफिस में पीआरएस खोलने के लिए पत्र भेजा था।इस पर डाक विभाग से कोई रिस्पॉन्स नहीं मिल पाया।इस संबंध में रेलवे के अधिकारी डाक विभाग को लिख चुके हैं,लेकिन वे पोस्ट आफिस के अधिकारी दिलचस्पी नहीं दिखा रहे।वहीं इस संबंध में डाक विभाग के अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं।

गंगाजल मांग के अनुरूप सप्लाई नहीं

ऋषिकेष से आर रहे गंगाजल की मांग लोगों में बहुत है,लेकिन पोस्ट आफिस मांग के अनुरूप सप्लाई नहीं कर पाता है।इससे लोग हरिद्वार, प्रयागराज से आ रहा गंगाजल खरीदते हैं।धार्मिक ग्रंथों में ऋषिकेष के गंगाजल की मान्यता अधिक है।पोस्ट आफिस में रोजाना 10 से 12 प्रति लीटर गंगाजल की खपत है।त्योहार के समय इसकी मांग दुगना हो जाती है।

सिर्फ डाकघर का एटीएम

डाकघर में बैंकिंग सेवा देने के लिए खाता तो खोला दिया गया है,लेकिन खाताधारकों को दिया गया ATM कार्ड सिर्फ पोस्ट आफिस के ही ATM में ही उपयोग किया जा सकेंगा।जबकि काफी समय से खाताधाराकों की मांग है कि-उन्हे सभी ATM में उपयोग किया जाने वाला कार्ड दिया जाए,जो अभी तक सिर्फ पेंडिंग है।

डाकघर में शुरू की गई योजना का लाभ खाता धारकों को मिल रहा है।बाकी सर्वर दिक्कत जैसे अन्य योजनाओं का अपडेट या शुरू करने की प्रक्रिया तो प्रमुख विभाग से स्वीकृत के बाद ही शुरू होता है।इसलिए इस संबंध वरिष्ठ अधिकारी से बात कर ले। – वायआर सिन्हा,डाकघर प्रभारी

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.