Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

CG Electricity :बिजली पर सियासत के बीच उपलब्धियां गिनाने में जुटी भूपेश सरकार

CG Electricity

रायपुर। प्रदेश में प्रमुख विपक्षी भाजपा बिजली के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है।BJP ने शनिवार को प्रदेशभर में धरना-प्रदर्शन किया। वहीं, सरकार छह महीने में ही पारेषण (ट्रांसमिशन) क्षमता में 10 फीसद बढ़ोतरी व 116 सब स्टेशनों की क्षमता बढ़ाने का दावा कर रही है।बिजली कंपनी के अफसर कह रहे हैं कि-छह महीने में ही सिस्टम को मजबूत कर दिया गया है।सुदूर 374 से अधिक गांवों में बिजली पहुंचाई गई है।इनमें से कई गांव ऐसे हैं जहां आजादी के बाद पहली बार बिजली पहुंची है। 

उपकेंद्रों की संख्या बढ़कर डेढ़ लाख पहुंची

पॉवर कंपनी के अफसरों के अनुसार राज्य में अति उच्चदाब उपकेंद्रों की संख्या 118 हो गई है।अति उधादाब लाईनों की लंबाई 12300 सर्किट किलोमीटर तक पहुंच चुकी है।इसी प्रकार 33/11 केवी उपकेंद्रों की संख्या 1248 हो गई है।वहीं,33KV लाईनों की लंबाई 22088 किलोमीटर तक विस्तार कर लिया गया है।11/04 उपकेंद्रों की संख्या भी बढ़कर डेढ़ लाख से अधिक हो गई है।11 केवी लाईनों की लंबाई 1 लाख 12 हजार तक पहुंच चुकी है। 

सरगुजा के 174 गांवों में 19 वर्ष बाद पहुंची छत्तीसगढ़ की बिजली 

सरगुजा के जनकपुर क्षेत्र के 174 गांव अब तक मध्यप्रदेश की बिजली से रोशन हो रहे थे। इन गांवों के 4178 उपभोक्ताओं को मध्यप्रदेश से ऊंची कीमत पर बिजली की आपूर्ति हो रही थी। केवल साढ़े 3 महीने के रिकार्ड समय में नयी सरकार ने 60 किलोमीटर नई बिजली लाइन बिछाकर छत्तीसगढ़ से ही बिजली पहुंचाने का इंतजाम कर दिया है।

देवभोग में बिजली की गुणवत्ता ठीक करने को 67 करोड़ खर्च

अधोसरंचना की खामियों की वजह से बिजली की समस्याओं से जूझ रहे देवभोग क्षेत्र के 200 गांवों को जल्द राहत मिल जाएगी। इस क्षेत्र को अच्छी गुणवत्ता के साथ निर्बाध बिजली की आपूर्ति करने के लिए भूपेश सरकार 67 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है।इस राशि से इंदा गांव में एक नये सब स्टेशन का निर्माण कराया जाएगा।132KV की 68 किलोमीटर लंबी नयी बिजली लाइन नगरी से बिछाने की तैयारी कर ली गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.