रायपुर – आज के समय में आप जिसके हाथ में भी देखेंगे, आपको मोबाइल फोन नजर आएगा। बच्चे लेकर युवा और बुजुर्ग तक, हर कोई मोबाइल का इस्तेमाल कर रहा है। इसके जरिए लोग न सिर्फ एक-दूसरे से बात कर पाते हैं बल्कि अपने कई काम भी कर लेते हैं। मोबाइल की मदद से आप अपने कई काम एक क्लिक में कर लेते हैं। कॉल करने के लिए, नेट बैंकिंग के लिए, घर बैठे खरीदारी करने के लिए, गेम खेलने के लिए आदि नाजाने कितने काम मोबाइल के जरिए हो जाते हैं। वहीं, इन सब कामों को करने के लिए स्मार्टफोन में एप की जरूरत पड़ती है, जिन्हें आप प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ एप ऐसे हैं जो आपके मोबाइल के लिए खतरनाक हो सकते हैं? शायद नहीं, लेकिन जालसाजों ने कुछ ऐसे एप तैयार किए हैं जिनके जरिए वो आपकी बैंकिंग जानकारी चुराकर लोगों को चपत लगाने का काम करते हैं। तो चलिए जानते हैं कि वो कौन से एप हैं, जिन्हें आपको अपने मोबाइल से तुरंत हटा देना चाहिए। आप अगली स्लाइड्स में इस बारे में जान सकते हैं…

इस तरह के एप से बचकर रहें:-

मुफ्त वाले एंटी वायरस

लोग अपने मोबाइल को सुरक्षित रखने के लिए कई तरह के मुफ्त में मिलने वाले एंटी वायरस एप इंस्टॉल करते हैं। जबकि ये एप आपके मोबाइल में खतरा बढ़ा सकते हैं। इसलिए इन एप को डाउनलोड करने से बचें, नहीं तो ये आपके मोबाइल को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

फ्लैश लाइट एप

कई लोग अपने मोबाइल में अलग से फ्लैश लाइट एप डाउनलोड कर लेते हैं, जिसमें कई तरह के फीचर मौजूद होते हैं। लेकिन आप शायद ये नहीं जानते होंगे की ये एप आपकी कई गोपनीय जानकारी चुराकर इनका गलत इस्तेमाल तक करते हैं। इसलिए इन्हें डाउनलोड करने से बचें।

कीबोर्ड एप

आप जब मोबाइल खरीदते हैं, तो उसमें पहले से कीबोर्ड मौजूद होता है। हालांकि, ये नॉर्मल कीबोर्ड होता है जिसके कारण लोग अपने मोबाइल में अलग से कीबोर्ड जोड़ते हैं। लोग ऐसा इसलिए करते हैं, ताकि उन्हें नए इमोजी और नए राइटिंग स्टाइल वाले कीबोर्ड मिल पाए।

लेकिन लोग ये भूल जाते हैं कि जो कीबोर्ड एप वो अलग से अपने मोबाइल में इंस्टॉल करते हैं, वो उनके आईडी पासवर्ड जैसी चीजें चुरा सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप इस तरह की एप से बचकर रहे हैं।

क्लीनर एप

जितना ज्यादा हम अपने मोबाइल को इस्तेमाल करते हैं, उतने ही इसमें कैशे और जंक फाइल आ जाते हैं। ऐसे में इन्हें हटाना भी जरूरी होता है, ताकि मोबाइल की स्पीड बढ़ पाए। लेकिन कई बार लोग इसके लिए कई तरह के एप इंस्टॉल कर लेते हैं, जो पहले को आपसे आपके फोन की कई चीजों की परमिशन मांगते हैं। फिर इसके बाद ये आपकी नाक के नीचे से आपकी जानकारियां चुराते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.