नई दिल्ली- व्यापारियों के संगठन कनफेडेरशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अपने राष्ट्रीय अभियान के तहत जूम ऐप का बहिष्कार करने का फैसला किया है। अब व्यापारियों से संवाद के लिए कैट रिलायंस की ‘जियोमीट’ ऐप का इस्तेमाल करेगा। कैट ने देश भर के व्यापारियों और सभी राज्यों में फैले व्यापारी संगठनों को यह सलाह दी है की वे अपने संवाद मंच के रूप में अब जूम का उपयोग न करें।

कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि हमारी प्रौद्योगिकी टीम अन्य ऐप का भी आकलन कर रही है। उन्होंने कहा कि यह निर्णय जूम के बारे में देशभर के व्यापारी नेताओं से प्राप्त आपत्तियों एवं सुझावों को ध्यान में रख कर लिया है। कैट ने कहा कि उसने यह कदम अपने ‘भारतीय सामान-हमारा अभिमान’ को सशक्त बनाने के लिए उठाया है।

कैट ने कहा कि जूम हालांकि अमेरिकी ऐप है, किन्तु प्राप्त जानकारी के अनुसार उसका काफी डाटा चीन के जरिये जाता है और जूम के कुछ सर्वर चीन में भी हैं, जिसकी वजह से डाटा के लीक होने का खतरा बना रहता है। इस आशंका को भी खारिज नहीं किया जाता की इसका दुरुपयोग भारत के हितों के खिलाफ भी हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.