‘तांडव’ पर घमासान, अमेजन की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित सहित 4 पर केस दर्ज, साधु-संतों ने दी आंदोलन की चेतावनी

उत्तरप्रदेश के लखनऊ में अमेजन प्राइम पर रिलीज हुई सैफ अली खान की वेबसीरीज ‘तांडव’ को लेकर हजरतगंज थाने में रविवार देर रात एक मुकदमा दर्ज हुआ। यह मुकदमा पुलिस की जांच के आधार पर हजरतगंज थाने के एसआई की तरफ से लिखवाया गया है।

इसमें अमेजन प्राइम के इंडिया हेड,तांडव वेब सीरीज के डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और राइटर के पर 153A, 295,505(1)(b), 505(2), 469, 66, 66F, 67 धाराओं के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

लखनऊ पुलिस के आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ट्विटर हैंडल तथा अन्य सोशल मीडिया निगरानी के दौरान लखनऊ पुलिस को जानकारी हुई थी कि ओटीटी प्लेटफार्म अमेजन प्राइम वीडियो पर 16 जनवरी को रिलीज वेब सीरीज तांडव के विरोध में काफी आक्रोशभरे लेख लिखे जा रहे थे और साथ में वेबसीरीज के वीडियो फुटेज भी पोस्ट कर लोग विरोध दर्ज करा रहे थे |

तांडव’ पर विवाद : सैफ-करीना के घर की सुरक्षा बढ़ाई, BJP विधायक ने भगवान शिव पर मजाक को लेकर दर्ज कराई शिकायत

इसके बाद लोगों के अंदर बढ़ रहे गुस्से को देखते हुए पुलिस के द्वारा अमेजन प्राइम वीडियो पर उक्त वेब सीरीज को देखा गया तो पाया गया कि वेब सीरीज तांडव के पहले एपीसोड में हिन्दू देवी-देवताओं को जोड़ कर अमर्यादित तरीके से देवी-देवताओं को बोलते दिखाया गया है और अशोभनीय भाषा का प्रयोग भी किया गया है जो धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाला एवं आघात पहुंचाने वाला था और वहीं भारत के पूर्व प्रधानमंत्री को लेकर भी अत्यंत अशोभनीय टिप्पणी की गई है तथा कई जगहों पर जातिगत बातें भी की गई, जिससे कि समाज का माहौल बिगड़ सकता है और शांति व्यवस्था पर भी असर पड़ सकता है।

वेब सीरीज देखने के बाद अपर्णा पुरोहित हेड इंडिया ओरिजिनल कंटेन्ट अमेजन, अली अब्बास जफर-डायरेक्टर तांडव वेब सीरीज, हिमांशु कृष्ण मेहरा-प्रोड्यूसर, गौरव सोलंकी राइटर पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है। पूरे देश में सैफ अली खान की वेब सीरीज तांडव को लेकर लोग तरह-तरह के माध्यम से विरोध दर्ज करा रहे हैं।

साधु-संतों ने दी आंदोलन की चेतावनी

माघ मेले में आए साधु-संतों ने इस वेब सीरीज का विरोध किया है और कहा है कि सीधे तौर पर कहां है कि हम सभी हिन्दू देवी देवताओं का अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे इसलिए इस वेब सीरीज पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जानी चाहिए।

प्रयागराज में माघ मेले में आये अखिल भारतीय दंडी सन्यासी परिषद के संरक्षक स्वामी महेशाश्रम महाराज ने विरोध दर्ज कराते हुए कहा है कि हिन्दू-देवी देवताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने और उन्हें अपमानित करने वाले लोगों को हम लोग बर्दाश्त नहीं करेंगे इन सभी को कठोर दंड मिलना चाहिए उन्होंने कहा कि मुंबई में शिवसेना सरकार को जल्द से जल्द ठोस कदम उठाना चाहिए और कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए और अगर ऐसा नहीं करते हैं तो हिन्दू धर्म पर बार-बार हो रहे हमले को लेकर साधु-संतों ही सबक सिखाने के लिए आगे आना पड़ेगा। अन्य साधु-संतों ने चेतावनी दी है कि वेब सीरीज को रोका जाए और अगर नहीं रोका गया तो साधु संत इसके लिए आंदोलन करेंगे

Leave A Reply

Your email address will not be published.