अग्रसेन महाविद्यालय में डॉ.जे.पी. अग्रवाल ने वाणिज्य विषय पर दिया करियर मार्गदर्शन

Career counseling

रायपुर- अग्रसेन महाविद्यालय पुरानी बस्ती में आज वाणिज्य विषय के विशेषज्ञ डॉ.जयप्रकाश अग्रवाल ने इस विषय में करियर की सम्भावनाओं पर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दिया|उन्होंने कहा कि-जैसे-जैसे देश में आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ रहीं हैं,उसी अनुपात में वाणिज्य विषय में करियर के नए-नये क्षेत्र भी सामने आ रहे हैं|

डॉ.अग्रवाल ने बताया कि पहले बी.काम.की पढाई के बाद केवल बैंक या व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में ही सीमित तरह की नौकरी के विकल्प हुआ करते थे|लेकिन समय के साथ सी.ए., सी.डब्ल्यू.ए.,बीमा एजेंट,कंपनी सेक्रेटरी,टेक्सेशन,फाईनेंशियल इंजीनियर,फाईनेंशियल प्लानिंग,फाईनेंशियल एनालिस्ट, फारेंसिक एकाउंटिंग सहित अनेक प्रकार के नए करियर उपलब्ध हैं|गौरतलब है कि-डॉ.जे. पी. अग्रवाल विगत तीस वर्षों से रायपुर में कामर्स और सी.ए. की कोचिंग उपलब्ध कराते रहे हैं और उनके मार्गदर्शन में अनेक विद्यार्थी विशेषज्ञ के रूप में सफलतापूर्वक अपने करियर का लक्ष्य हासिल कर चुके हैं|साथ ही वे अनेक वर्षों से कामर्स विषय की अनेक उपयोगी किताबों का प्रकाशन भी कर रहे हैं|महाविद्यालय के एडमिनिस्ट्रेटर एवं वाणिज्य संकाय के विभागाध्यक्ष प्रो.अमित अग्रवाल ने भी इस मौके पर विद्यार्थियों को करियर के प्रति जागरूक करते हुए महाविद्यालय में उपलब्ध पाठ्यक्रमों और प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी दी|

उन्होंने काऊन्सिलिंग में मौजूद बारहवीं की परीक्षा पास करने वाले विद्यार्थियों से कहा कि-वे हायर सेकंडरी परीक्षा में प्राप्त प्रतिशत के बहुत अधिक होने पर ज्यादा उत्साहित नहीं रहें और कम अंक आने पर चिंतित भी न हों|क्योंकि बारहवीं के अंक का पूरे करियर में बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ता|उन्होंने कहा कि- केवल ज्यादा नंबर पाने की दौड़ में शामिल होने से बेहतर यह होगा कि पढाई के साथ- साथ,कंप्यूटर,स्पीकिंग इंग्लिश,खेल-कूद या कोई भी ललित कला का प्रशिक्षण भी लिया जाए|इससे न केवल हम अपने दिन भर के समय का सही प्रबंधन सीखते हैं, बल्कि किसी विषम परिस्थिति के आने पर हमें निराशा भी नहीं होती|उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि पढाई को नियमित रूप से करें और केवल साल के आखिरी में परीक्षा से पहले दस-पंद्रह पढ़ाई करने की प्रवृत्ति से उन्हें बचना चाहिए|इससे मन-मस्तिष्क पर अनावश्यक दबाव पड़ता है|डॉ.अग्रवाल ने कहा कि- आजकल अभिभावक और शिक्षक भी द्यार्थियों को हर कदम पर पूरा सहयोग करते हैं|अंत में उन्होंने सभी विद्यार्थियों से व्यक्तिगत रूप से भी चर्चा की और करियर के प्रति उनकी प्राथमिकता के आधार पर समुचित मार्गदर्शन किया|साथ ही उन्होंने हर एक विद्यार्थी द्वारा करियर के सम्बन्ध में पूछे गए विभिन्न प्रश्नों के उतर भी दिए|

इस मौके पर महाविद्यालय के डायरेक्टर डॉ.वी.के.अग्रवाल ने कहा कि-वाणिज्य विषय की उपयोगिता करियर के नजरिये से लगाआर बढ़ती जा रही है|आज करियर में प्रतिस्पर्धा बहुत अधिक है,इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने विषय के पर्याप्त ज्ञान के अलावा विषय की किसी एक शाखा में विशेषज्ञ बनना भी जरुरी है,तभी उसे सही करियर मिल सकता है|कार्यक्रम में उपस्थित महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ .युलेंद्र कुमार राजपूत ने डॉ. जे.पी. अग्रवाल को उनके द्वारा विद्यार्थियों को दिए गए मार्गदर्शन के लिए साधुवाद दिया|सभी प्रतिभागी विद्यार्थियों ने इस मार्गदर्शन कार्यक्रम को अपने भविष्य के लिए बहुत उपयोगी बताया|

Summary
0 %
User Rating 3.7 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In राजधानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

World yoga day :राजधानी में योग दिवस पर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी जोरो पर

रायपुर। विश्व योग दिवस को लेकर प्रदेश में तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।वही इनडोर स्टेडियम ब…