भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने महासमुन्द के मामले को बताया इतिहास का काला अध्याय….चंद्राकर को विधायक व संसदीय सचिव के पद से बर्ख़ास्त

रायपुर- भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने मंगलवार को महासमुन्द के आबकारी दफ़्तर में कांग्रेस विधायक और संसदीय सचिव की मौज़ूदगी में हुई मारपीट की घटना को प्रदेश के राजनीतिक इतिहास का सबसे काला अध्याय बताते हुए कांग्रेस, प्रदेश सरकार और विधानसभा अध्यक्ष से उन्हें कांग्रेस, संसदीय सचिव व विधानसभा की सदस्यता से बर्ख़ास्त करने की मांग की है।

विष्णुदेव साय ने जशपुर ज़िला कांग्रेस ने कुनकुरी थाना प्रभारी को सभी न्यूज़ एजेंसी के ख़िलाफ़ एफ़आईआर करने के लिए पत्र लिखे जाने और कांग्रेस विधायक यूडी मिंज ने थाना प्रभारी को सौंपे जाने को कांग्रेस के अलोकतांत्रिक, असहिष्णु और अधिनायकवादी राजनीतिक चरित्र का परिचायक बताया है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि विधायक और संसदीय सचिव चंद्राकर की मौज़ूदगी में मंगलवार को जो कुछ हुआ, वह कांग्रेस के चरित्र की एक बानग़ी है। संसदीय सचिव के नाते प्रदेश सरकार का एक अंग होकर मारपीट करने वालों को अपने साथ लेकर आबकारी दफ़्तर पहुँचने की बात पीड़ित कर्मचारी ने अपनी शिकायत में कही है और यह भी कहा है कि विधायक और उनके समर्थकों ने कमरा बंद करके बेदम पीटा, जिससे पीड़ित बुरी तरह घायल हो गया।

उसकी जान भी जा सकती थी। प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ मारपीट और उन पर जानलेवा हमला करती कांग्रेस नेताओं और जनप्रतिनिधियों और उनकी गुण्डावाहिनियों की आपराधिक क़रतूतों के चलते जंगलराज जैसा आलम पूरे प्रदेश में देखा जा रहा है। कांग्रेस के लोग सत्ता की धौंस दिखाकर प्रदेश को अराजकता के गर्त में धकेल रहे हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष साय ने कहा कि जशपुर के कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में कांग्रेस के पूर्व जिलाध्याक्ष से कांग्रेस के ही भूपेश गुट ने की गई मारपीट से जुड़ी ख़बरें व वीडियो प्रसारित होने पर कांग्रेस के लोगों का मीडिया के ख़िलाफ़ प्रलाप करना समझ से परे है। यह मीडिया, सोशल मीडिया के प्रति कांग्रेस और उसकी सरकार के दुराग्रहों का परिचायक है।

कांग्रेस के लोग ऐसी हरक़तें करके अब मीडिया को खुले तौर पर धमकाने में लगे हैं। साय ने कहा कि टुकड़ा-टुकड़ा गैंग की अभिव्यक्ति की आज़ादी का झंडा उठाए देशभर में प्रलाप करती कांग्रेस आज अपने असहिष्णु चरित्र का परिचय दे रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अनेक मौक़ों पर मीडिया के प्रति अपने दुराग्रह का प्रदर्शन करते देखे-सुने और पढ़े गए हैं, अब कांग्रेस के बाकी लोग भी उसी रास्ते उसी चरित्र का परिचय देने में लगे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.