बड़ी खबर :जगदलपुर पुलिस की बड़ी सफलता अलग अलग थानों से पांच माओवादी गिरफ्तार और दो स्मारक ध्वस्त

जगदलपुर – नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। चार सहायक आरक्षकों की हत्या में शामिल बदरू मिच्चा को कुटरू थानक्षेत्र के चिंगेर नाल के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है। बदरू 14 अगस्त 2015 में चार सहायक आरक्षकों जयदेव यादव, कार्तिक राम यादव, रामराम मज्जी और मंगल सोढ़ी की हत्या में शामिल रहा है।

दूसरी घटना में नेलसनार से एरिया डोमिनेशन पर निकली पार्टी ने IED और विस्फोटक के साथ चार लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें मोटूराम अटामि, बुदरु अटामि, शंकर इसतामि और अयतुराम कोवासी शामिल हैं।

वहीं, जिले में नक्सलियों के खिलाफ तीसरी घटना मिरतुर थाने की है, जहां सर्चिंग के दौरान हुर्रेपाल और चेरली में नक्सली स्मारकों को सुरक्षाबल के जवानों ने जेसीबी की मदद से ध्वस्त कर दिया है। बताते चलें कि रविवार को नक्सलियों ने ससुराल जाने के लिए निकले एक आरक्षक का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी थी।

दलअसल, इन दिनों पुलिस और सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज कर रखा है। चौतरफा कार्रवाई से डरे नक्सली बौखलाए हुए हैं। एक तरफ पुलिस की लोन वर्राटू योजना के तहत मुख्यधारा से भटके हुए नौजवानों को आत्मसमर्पण कर फिर से सामान्य जीवन जीने का रास्ता खोला जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ नक्सली गतिविधियों में शामिल लोगों को या तो गिरफ्तार किया जा रहा है या मुठभेड़ में मार गिराया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण की वजह से हुए लॉक डाउन और अब उसके बाद सघन तलाशी अभियान की वजह से नक्सलियों तक हथियार और गोलियां नहीं पहुंच रही हैं। लिहाजा, उन्होंने लैंड माइन बिछाना शुरू कर दिया है। इसे लेकर फोर्स अब पहले से ज्यादा सतर्कता बरत रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.