रायपुर – प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोरोना जांच की संख्या बढ़ाने के निर्देश है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश में बीते सप्ताह तीन जनवरी से नौ जनवरी के बीच 2,71,912 सैंपलों की जांच की गई है।

इस तरह से हर दिन औसत 38,845 सैंपल जांच हुए। जबकि पिछले महीने दिसंबर के अंतिम सप्ताह में 25 से 31 दिसंबर के बीच यह औसत 20,256 कोरोना जांचें हुईं। अभी करीब दुगुनी संख्या में सैंपलों की जांच हो रही है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए विभाग को प्रतिदिन ज्यादा से ज्यादा संख्या में सैंपलों की जांच के निर्देश दिए हैं। उनके निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी जिलों में रोजाना जांच की संख्या बढ़ाई गई है।

प्रदेश में पिछले सात दिनों में सैंपल जांच

  • जनवरी – सैंपल जांच
  • 3 – 27646
  • 4 – 35705
  • 5 – 37393
  • 6 – 48832
  • 7 – 44773
  • 8 – 46495
  • 9 – 31071

18 वर्ष से अधिक 98 फीसद को पहला टीका और 65 फीसद आबादी को दोनों टीके लगे

राज्य में 100 फीसद पहले डोज के लक्ष्य से हम दो फीसद दूर है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश में कोरोना से बचाव के लिए 18 वर्ष से अधिक की 65 फीसद आबादी को दोनों टीके लगाए जा चुके हैं। वहीं इस आयु वर्ग के 98 प्रतिशत लोगों को पहला टीका लग चुका है। प्रदेश में 15 से 18 वर्ष के किशोरों का भी टीकाकरण तेजी से किया जा रहा है।

नौ जनवरी तक इस आयु वर्ग के 46 प्रतिशत किशोरों को कोरोना वैक्सीन का पहला टीका लगाया जा चुका है। मुंगेली, धमतरी, राजनांदगांव, बेमेतरा, महासमुंद, बालोद, कांकेर, दुर्ग और गरियाबंद जिले में इस आयु वर्ग के लिए निर्धारित लक्ष्य के आधे से ज्यादा किशोरों ने कोरोना से बचाव के लिए पहला टीका लगवा लिया है। प्रदेश में पहली और दूसरी, दोनों खुराकों को मिलाकर अब तक कुल 3,26,91,036 टीके लगाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.