Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

Anganwadi:छत्तीसगढ़ में बदलेगा अब आंगनबाड़ी की नज़ारा,प्ले स्कूल की तरह होगा सूरत

 Anganwadi

रायपुर-गांवों में संचालित आंगनबाड़ी का स्वरूप यदि प्ले स्कूल की तरह दिख जाए तो चौंकिए नहीं,क्योंकि नौनिहालों को प्राइवेट प्ले स्कूल की तर्ज पर शिक्षा व माहौल देने की तैयारी की जा रही है।इसके लिए रायपुर जिला पंचायत के राष्ट्रीय रूर्बन मिशन के तहत फिलहाल मंदिरहसौद कलस्टर में आ रही आंगनबाड़ी को शामिल किया गया है,जिससे योजना के तहत आंगनबाड़ी में रंग-रोगन कार्य के साथ ही टेबल,कुर्सी,चार्ट जैसी सामग्री को केंद्र में रखा जाएगा।

इससे आंगनबाड़ी का स्वरूप कहीं-न-कहीं प्राइवेट प्ले स्कूल की तर्ज पर तैयार होगा।हालांकि विभागीय अधिकारी का कहना है कि लगभग 16 आंगनबाड़ी को इस योजना से जोड़ने का प्रस्ताव है।अभी इस पर फाइनल मुहर लगानी बाकी है।जैसे ही वरिष्ठ अधिकारी की तरफ से स्वीकृति मिल जाएगी,योजना पर कार्य करना शुरू होगा।

तृतीय चरण में मंदिरहसौद शामिल

राष्ट्रीय रूर्बन मिशन के तहत इस तरह का प्रयास प्रदेश के अन्य जिलों की आंगनबाड़ी में शुरू किया गया है|इसका परिणाम भी काफी बेहतर रहा है।इसी की तर्ज पर अब मंदिरहसौद कलस्टर को शामिल किया गया है, जोकि योजना का तृतीय चरण है।आंगनबाड़ी के वास्तविक रूप में बदलाव होने से सबसे अधिक ग्रामीण में रह रहे नौनिहालों को मिल रहा है,इसलिए मंदिरहसौद के अंतर्गत शामिल केंद्र पर माह के अंत कार्य शुरू करने की पहल होगी।

दाखिले में रुझान बढ़ेगा

शहर में संचालित प्राइवेट प्ले स्कूलों के आधार पर आंगनबाड़ी तैयार होने से कहीं-न-कहीं दाखिले का रुझान बढ़ेगा।साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे अभिभावकों के मन में भी ऐसी आंगनबाड़ी में बच्चे को पढ़ाने के लिए आगे आएंगे।इसलिए केंद्र सरकार के माध्यम से संचालित योजना का लाभ अधिक से अधिक कलस्टर तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।विभाग की तरह से योजना को लेकर प्रस्ताव तैयार हो गया है।

आंगनबाड़ी में बढ़ेंगे दाखिले

ग्राम पंचायतों में प्राइवेट की तर्ज पर आंगनबाड़ी में उन्नयन कार्य शुरू किया जाएगा।इससे गांवों में रह रहे नौनिहालों का रुझान दाखिले की तरफ बढ़ेगा,इसलिए मंदिरहसौद के अंतर्गत केंद्र में जल्द ही कार्य शुरू होंगे।डॉ. गौरव सिंह,सीईओ,जिला पंचायत,रायपुर

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.