पहुंच विहीन क्षेत्रों के गर्भवती माताओं का सभी जांच अब सोलर मदर केयर कम मैटरनिटी किट से

रायपुर – छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रदेश के शहरी क्षेत्रों से लेकर सुदूर वनांचल के पहुंच विहीन ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य की सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। विषम भौगोलिक परिस्थितियों में रहने वाली ग्रामीण गर्भवती माताओं को उनके नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्रों में प्रसूति पूर्व सभी जांच कराने के लिए आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि माताओं के स्वास्थ्य की देखभाल बेहतर तरीके से हो सके। इसी कड़ी में जिला प्रशासन बीजापुर द्वारा भैरमगढ़ विकासखण्ड क्षेत्र के सभी 17 उप स्वास्थ्य केन्द्रों में गर्भवती माताओं के बेहतर स्वास्थ के लिए सौर ऊर्जा से संचालित यंत्र सोलर मदर केयर कम मैटरनिटी किट उपलब्ध कराया गया है। इस किट के माध्यम से विद्युत विहीन क्षेत्रों के गर्भवती माताओं का आसानी से स्वास्थ्य परीक्षण एवं प्रसूति पूर्व सभी जांच सम्पन्न कराए जा रहे हैं। समस्त यंत्र एक पोर्टेबल बैग में समाहित रहता है, जिसे स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा आसानी से परिवहन किया जा सकता है।

इस किट में उपलब्ध यंत्र – यूरीन स्ट्रीप्स, एचबी स्ट्रीप्स, बीपी मीटर, ग्लूको मीटर स्ट्रीप्स, फेटल डॉप्लर, थर्मामीटर, हैण्ड लैम्प, लेन्स डिवाईस, हैंगिंग एलईडी बल्ब, आक्सीमीटर, पावर बैंक वजन मशीन एवं सेलर पैनल मौजूद है।

इस किट के माध्यम से पहुंच विहीन क्षेत्रों में लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य परीक्षण जैसे हीमोग्लोबिन जांच, मधुमेह जांच, ऑक्सीजन लेवल, तापमान, बच्चे का धड़कन इत्यादि परीक्षण आसानी से किया जा रहा है। यह ‘‘सोलर मदर केयर कम मैटरनिटी किट’’ मुख्य रूप से गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु कारगर साबित हो रहा है। जिससे महिलाओं की प्रसूति पूर्व सभी आवश्यक जांच आसानी से सुनिश्चित हो रही हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.