कोरोना जांच में देरी और इलाज में लापरवाही के चलते 30 फीसद लोग तोड़ रहे दम

रायपुर Mynews36 – राज्य में संक्रमण के बढ़ते मामलों के साथ ही मौत के आंकड़े भी लगातार बढ़ रहे हैं। संक्रमण से मौत के 30 फीसद ऐसे मामले हैं, जिनमें मरीज अस्पताल देर से पहुंचने की वजह से दम तोड़ दे रहा है।

राज्य कोरोना नियंत्रण अभियान के नोडल अधिकारी डॉक्‍टर सुभाष पांडेय ने बताया कि लापरवाही कोरोना फैलने की मुख्य वजह है। देखा जा रहा है कि लक्षण दिखाई देने के बाद भी लोगों द्वारा जांच में देरी की जाती है। जांच होने के बाद रिपोर्ट पाजिटिव आ जाती है।

तब सामान्य स्थिति को देखते हुए इलाज में लापरवाही, गाइडलाइन का पालन न करने की वजह से पीड़ित के शरीर में कोरोना संक्रमण का फैलाव अधिक हो जाता है और मरीज की स्थिति को गंभीर बना देता है। संक्रमण फैलने के बाद शारीरिक गतिविधियों को असामान्य कर देता है या यूं कहें कि शरीर के आंतरिक अंगों को निष्क्रिय करने लगता है।

बेहद खराब स्थिति में आने की वजह से मरीज अस्पताल पहुंचने के 24 घंटे के भीतर दम तोड़ दे रहा है। इसमें संक्रमण के साथ ही अन्य बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या अधिक है। स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के 50 फीसद मामले भले युवाओं में आ रहे हैं, लेकिन मौत के मामलों में करीब 90 फीसद लोग 45 उम्र को पार करने वाले हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.