रायपुर – प्रदेश में बीते तीन वर्ष में उद्योगों की स्थापना के लिए 149 एमओयू हुए हैं। इसके माध्यम से प्रदेश में 73,704.30 करोड़ रुपये का पूंजी निवेश प्रस्तावित है। इससे प्रदेश के 89,697 लोगों को रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के नारे को साकार करते हुए हरेक क्षेत्र ने विकास की रफ्तार पकड़ी है।

नई औद्योगिक नीति से राज्य में बहुत अच्छा औद्योगिक वातावरण का निर्माण हुआ है। धान बेचने वाले किसानों को किस्तों में खासकर त्योहारों के मौके पर बोनस राशि का भुगतान किया गया। कोरोना संकट काल के दौरान जहां पूरा देश आर्थिक मंदी से जूझ रहा था, वहीं राज्य में उद्योग जगत इसके प्रभाव से अछूता रहा। राइस मिलों में ऊर्जा प्रभार से पांच प्रतिशत की छूट दी गई। उद्योगों को बिजली बिलों के भुगतान की अवधि में भी छूट दी गई। नई औद्योगिक नीति से उद्योग धंधों के नए अवसर खुलने के साथ-साथ कृषि क्षेत्र और वन आधारित उद्योगों को भी बढ़ावा मिल रहा है।

वन विभाग में होगी वनरक्षक के 291 पदों पर भर्ती

वन विभाग ने वनरक्षक के 291 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया है। इन पदों के लिए राज्य के 12वीं पास मूल निवासी ही वन विभाग की वेबसाइट के माध्यम से आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। 18 से 40 वर्ग के आवेदक 31 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं। वन विभाग के अफसरों ने बताया कि सभी नियुक्तियां वन मंडलों के हिसाब से होगी। इसके लिए वन मंडलाधिकारियों को नोडल अफसर बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.